काँग्रेसी सांसद रवनीत बिट्टू पर आई आफत, किसानों ने दौड़ा कर भगाया

नई दिल्ली: कृषि कानूनों (Agriculture Bill) को लेकर देश भर में केंद्र सरकार (Central Government) के विरोध में प्रदर्शन कर रही कांग्रेस पार्टी (Congress) को अब किसानों (Farmer) का विरोध का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, पंजाब (Punjab) के लुधियाना (Ludhiyana) से सांसद रवनीत बिट्टू (Ravneet Bittu) ने रविवार को दोपहर सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर आंदोलन कर रहे किसानों से मिलने पहुंचे। देखते ही किसानों ने उनका विरोध करना शुरू कर दिया। वहीं मौजूद लोगों ने उन्हें दौड़ा दौड़ा कर आंदोलन स्थल से भगा दिया।  

मिली जानकरी के अनुसार प्रदर्शन कर रहे किसानों ने उनके साथ धक्का मुक्की भी की। साथ ही जम कर नारे बाजी भी की। सांसद जब मिलने पहुंचे उस समय उनके साथ सुरक्षा कर्मी मौजूद नहीं थे। इस दौरान उनके साथ सिर्फ सांसद गुरजीत सिंह औजला और विधायक कुलवीर जीरा समेत कुछ समर्थक मौजूद थे।

पहले से घात लगाए बैठे थे

अपने साथ हुई इस इस घटना पर बोलते हुए बिट्टू ने कहा, ” हम किसान नेताओं के बुलाने पर बैठक में भाग लेने गए थे। पहुँचने से पहले ही वह लोग घात लगाए बैठे थे, मानो छापामार योद्धा जो लाठी और अन्य हथियारों से लैस होते हैं। हम अब कोई कदम नहीं उठाने जा रहे हैं क्योंकि किसानों के आंदोलन अभी भी जारी हैं।”

आंदोलन में खालिस्तान का झंडा लेने वाले शामिल 

कांग्रेस सांसद ने कहा, “मैं बहुत पहले से कह रहा हूँ, आंदोलन में शरारती तत्व और खालिस्तान का झंडा पकड़ने वाले शामिल है। लेकिन किसान नेता इतनी संख्या में लोगों की पहचान सत्यापित करने के लिए क्या कर सकते हैं।” उन्होंने कहा, “झंडे लहराने के लिए ऐसे तत्व को80 लाख से लेकर 1 करोड़ रुपए दिए जा रहे हैं और मैं वैसे भी मैं उनका मुख्य टारगेट हूँ।”