Modi

नई दिल्ली: राज्यसभा में कृषि विधेयक (Agriculture Bill) पास होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने आज के दिन को ऐतिहासिक दिन. प्रधानमंत्री ने ट्वीट करते हुए लिखा, “भारत (India) के कृषि इतिहास में आज एक बड़ा दिन है. संसद (Parliament) में अहम विधेयकों के पारित होने पर मैं अपने परिश्रमी अन्नदाताओं को बधाई देता हूं. यह न केवल कृषि क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन लाएगा, बल्कि इससे करोड़ों किसान सशक्त होंगे.”

किसानों की आय होगी दोगुनी
प्रधानमंत्री ने कहा, “दशकों तक हमारे किसान भाई-बहन कई प्रकार के बंधनों में जकड़े हुए थे और उन्हें बिचौलियों का सामना करना पड़ता था. संसद में पारित विधेयकों से अन्नदाताओं को इन सबसे आजादी मिली है. इससे किसानों की आय दोगुनी करने के प्रयासों को बल मिलेगा और उनकी समृद्धि सुनिश्चित होगी.”

उन्होंने आगे कहा, “हमारे कृषि क्षेत्र को आधुनिकतम तकनीक की तत्काल जरूरत है, क्योंकि इससे मेहनतकश किसानों को मदद मिलेगी. अब इन बिलों के पास होने से हमारे किसानों की पहुंच भविष्य की टेक्नोलॉजी तक आसान होगी. इससे न केवल उपज बढ़ेगी, बल्कि बेहतर परिणाम सामने आएंगे. यह एक स्वागत योग्य कदम है.”

MSP की व्यवस्था जारी रहेगी  
विपक्षी दलों द्वारा एमएसपी को लेकर फैलाई जारही अफ़वाहों को और किसानों को यकीन दिलाते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मैं पहले भी कहा चुका हूं और एक बार फिर कहता हूं, MSP की व्यवस्था जारी रहेगी. सरकारी खरीद जारी रहेगी. हम यहां अपने किसानों की सेवा के लिए हैं. हम अन्नदाताओं की सहायता के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे और उनकी आने वाली पीढ़ियों के लिए बेहतर जीवन सुनिश्चित करेंगे.”

ज्ञात हो कि लोकसभा से पास होने के बाद रविवार को कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक 2020 (The Farmers Produce Trade and Commerce (Promotion and Simplification) Bill 2020), कृषक (सशक्तिकरण और संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक 2020 (the Farmers (Empowerment and Protection) Price Assurance and Agreements on Agricultural Services Bill 2020) राज्यसभा में जोरदार विरोध के बीच ध्वनीमत से पास हो गया. 

विपक्षी दलों ने तोड़ी सारी मर्यादा 
बिल के विरोध में विपक्षी दलों ने सारी मर्यादा तोड़ दी. टीएमसी (TMC) सांसद डेरेक ओ’ब्रायन (Derek O’Brien) ने बिल के विरोध में रूल बुक को फाड़ कर राज्यसभा उपसभापति के ऊपर फ़ेक दी. इसी के साथ कांग्रेस के सांसदों ने स्पीकर का माइक तोड़ दिया. कोरोना वायरस के संकट में विपक्षी सांसदों ने सामाजिक दूरी को भूलते हुए वेल में आकर नारे बाजी करने लगे.