corona
File: PTI Photo

    चेन्नई. कोरोना (Corona) महामारी की भयावह लहर के खिलाफ जारी लड़ाई में दुनिया के कई देश भारत की मदद कर रहे हैं जिसके तहत ब्रिटेन से 450 खाली ऑक्सीजन सिलिंडरों समेत करीब 35 टन चिकित्सकीय उपकरणों को लेकर भारतीय वायु सेना के विमान मंगलवार को यहां पहुंचे। ये चिकित्सकीय उपकरण ब्रिटेन ने भारत को अनुदान के रूप में दिए हैं। भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी (IRCS) के अनुसार ब्रिटेन ने कोरोना महामारी की दूसरी घातक लहर का सामना कर रहे भारत को पांच हजार ऑक्सीजन सिलिंडर अनुदान के रूप में दिए हैं ताकि भारत में खाली ऑक्सीजन सिलिंडरों की कमी दूर की जा सके।

    इनमें से 900 ऑक्सीजन सिलिंडर तमिलनाडु को दिए जाएंगे। रक्षा मंत्रालय की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक वायु सेना के दो सी-17 ग्लोबमास्टर मालवाहक विमान ब्रिटेन से चिकित्सकीय उपकरण लाने के लिए दो मई को गुजरात के जामनगर वायु सैन्य अड्डे से रवाना हुए थे। वायु सेना के दोनों विमान लगातार साढ़े 11 घंटे की उड़ान के बाद ब्रिटेन के ब्रिज नॉर्टन पहुंचे और वहां से जीवन रक्षक चिकित्सकीय उपकरण लेकर देश के लिए रवाना हुए।

    वायु सेना का पहला विमान स्थानीय समयानुसार करीब दो बजे ब्रिटेन पहुंचा और 450 खाली ऑक्सीजन सिलिंडरों समेत करीब 35 टन चिकित्सकीय उपकरणों को लेकर चेन्नई रवाना हो गया। वायुसेना का विमान मंगलवार को यहां सुबह करीब पांच बजे पहुंचा।   आईआरसीएस के एक अधिकारी ने बताया कि 900 ऑक्सीजन सिलिंडर तमिलनाडु के लिए हैं।आईआरसीएस की तमिलनाडु शाखा के प्रबंधक एम करनन ने पीटीआई से कहा, ‘‘हमें 450 ऑक्सीजन सिलिंडरों की पहली खेप आज सुबह मिली है जबकि दूसरी खेप दिन में आयेगी।” करनन ने आईआरसीएस की ओर से ऑक्सीजन सिलिंडरों की पहली खेप स्वीकार की और उसे एचएलएल लाइफकेयर लिमिटेड को सौंप दिया जो तमिलनाडु के स्वास्थ्य विभाग से सलाह मशविरा करने के बाद उन्हें राज्य के विभिन्न अस्पतालों को सौंपेगा।