air-bag

    नयी दिल्ली. एक महत्वपूर्ण खबर के अनुसार अब मोदी सरकार (Narendra Modi) ने आपकी सुरक्षा के लिए बड़ा ही जरुरी कदम उठाया है।अब सड़क और परिवहन मंत्रालय ने आगामी 1 अप्रैल के बाद बनने वाली कोई भी नई कार में एयरबैग (Air Bag) को विशेष रूप से अनिवार्य कर दिया है। इसके तहत अब ऑटोमोबाइल कंपनियों को आगामी 1 अप्रैल 2021 से नई कारों में ड्राइवर और उसकी बगल वाली सीट के लिए एयरबैग लगाने ही होंगे।

    पुरानी कारों के लिए 31 अगस्त तक छूट:

    अब इस नए नियम के मुताबिक जितनी सभी पुरानी कार जिनमें अभी एयर बैग नहीं है, उन्हें भी आगामी 31 अगस्त से पहले अपनी कारों में एयर बैग लगवाने ही होंगे।अब बिना एयर बैग के सड़क पर दौड़ रही किसी भी कार का चालान किया जाएगा।  मोदी सरकार की पूरी कोशिश सड़क हादसों में जान हानि के आंकड़े को कम से कम करने की है।

    लगी कानून मंत्रालय की मुहर:

    गौरतलब है कि कार में फ्रंट एयरबैग को जरूरी बनाने पर परिवहन मंत्रालय काफी समय से ही कार्य कर रहा था।जिसके चलते हाल ही में परिवहन मंत्रालय ने कानून मंत्रालय को एक महत्वपूर्ण प्रस्ताव भी भेजा था। जिस पर अब कानून मंत्रालय ने भी सहमति दे दी है। इसके बाद जरुरी नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया गया है।

    एयर बैग करता है आपकी जान की हिफाजत:

    बता दें कि सड़क हादसे के वक्त गाडी का यह एयर बैग ही काफी काम आता है। गौरतलब है कि जैसे ही कोई कार किसी से टकराती है तो ये एयर बैग गुब्बारे की तरह खुल जाते हैं और कार में बैठे व्यक्ति को  कार के डैशबोर्ड या स्टेयरिंग से टकराने से बचा लेते हैं। ये जरुरी तकनीक हादसे के वक्त जान बचाने के बहुत काम आती है क्योंकि हादसों में ज्यादातर मौत यात्री का सिर कार के डैशबोर्ड या स्टेयरिंग से टकराने से ही होती है।

    कैसे बनते हैं एयरबैग:

    विदित हो कि एयरबैग कॉटन के बने होते हैं और इन पर सिलिकॉन की कोटिंग होती है।  एयरबैग के अंदर सोडियम एजाइड (sodium Azide) गैस भीभरी होती है।इस प्रकार इसके प्रयोग से एक बहुमूल्य जान बचती है।