गृहमंत्री अमित शाह ने कहा- गृह मंत्रालय का आंध्र प्रदेश और तेलंगाना की स्थिति पर कड़ी नजर

नई दिल्ली: तेलंगाना (Telangana) और आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में हो रही भारी बारिश ने जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया है. बारिश ने दोनों राज्यों में बाढ़ की स्थिति बन गई है. मामले की गंभीरता को देखते हुए बुधवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कहा कि,”गृह मंत्रालय भारी बारिश के मद्देनजर तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहा है. मोदी सरकार जरूरत के इस घंटे में दोनों राज्यों के लोगों को हर संभव सहायता प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है. मेरे विचार और प्रार्थनाएं प्रभावितों के साथ हैं.”

ज्ञात हो कि पिछले तीन दिन से हो रही लगातार भारी बारिश ने तेलंगाना और आंध्रप्रदेश में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न होगई है. दोनों राज्यों के कई जिले पूरी तरह पानी से भर गए हैं. जिसके कारण अभी तक दोनों राज्यों में 35 लोगों की मौत भी हो चुकी है. वहीं बारिश के वजह से हैदराबाद जलमग्न हो चूका है. हर तरफ पानी ही पानी. एनडीआरएफ और सेना की मदद से लोगों को निकाला जा रहा है. 

भारी बारिश से जलमग्न इलाके से लोगों को बोट की सहायता से बाहर निकालते हुए भारतीय सेना के जवान

केंद्र हर संभव मदद करेगा: प्रधानमंत्री 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बारिश से प्रभावित तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री यों से बात की. जिसकी जानकरी प्रधानमंत्री ने खुद ट्वीट कर दी. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “भारी वर्षा प्रभावित तेलंगाना और आंध्रप्रदेश की मौजूदा स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री केसीआर (KCR) और आंध्र के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी (Jagan Mohan Reddy) से बात की. इस दौरान बचाव और राहत कार्य में केंद्र से हर संभव सहायता और सहायता का आश्वासन दिया। मेरी संवेदना बारिश के कारण प्रभावित लोगों के साथ हैं.”

हैदराबाद में मुसी नदी सुखी पड़ी हुई थी, वहीं दो दिन की भरी बारिश के वजह से उसमे बाढ़ आ गई है.

संकट की घड़ी में राष्ट्र तेलंगाना के साथ 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, “तेलंगाना के राज्यपाल तमिलसाई सुंदरराजन और मुख्यमंत्री श्री के. चंद्रशेखर राव के साथ बात की. इस दौरान हैदराबाद में लगातार बारिश और तेलंगाना के कुछ हिस्सों में हुई जनहानि और तबाही पर चिंता व्यक्त की. संकट की इस घड़ी में, राष्ट्र तेलंगाना के लोगों के साथ एकजुट है.