Representative picture
Representative picture

जम्मू. पिछले साल अमरनाथ यात्रा सुरक्षा करणों से निर्धारित तिथि से पहले ही ख़त्म कर दी गई थी. जिसके बाद इस साल अमरनाथ यात्रा की तैयारियां शुरू की गई है. इस साल की यात्रा के लिए तारीखों का ऐलान हो गया

जम्मू. पिछले साल अमरनाथ यात्रा सुरक्षा करणों से निर्धारित तिथि से पहले ही ख़त्म कर दी गई थी. जिसके बाद इस साल अमरनाथ यात्रा की तैयारियां शुरू की गई है. इस साल की यात्रा के लिए तारीखों का ऐलान हो गया है. जम्मू कश्मीर के राज्यपाल और श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के चेयरमेन गिरीश चंद्र मुर्मू की अध्यक्षता में इस संबंध में एक बैठक हुई. इस बैठक में यात्रा की निश्चित की गई. यात्रा 23 जून को शुरू होकर 3 अगस्त को ख़त्म होगी.

जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रमण्यम ने कहा, अमरनाथ यात्रा का संचालन प्रभावी होने के लिए पुलिस और श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड मिलकर काम करें। साथ ही यात्रा के दौरान दिशा निर्देशों का पालन सख्ती से होना चाहिए. इसके अलावा पंजीकृत तीर्थयात्रि और सेवा प्रदाताओं को ही जाने की अनुमति मिलें ऐसा उन्होंने कहा था.

पिछले साल यात्रा के दौरान ‘सुरक्षा कारणो’ से यात्रियों को निर्धारित समय से पहले ही घाटी छोड़ने के लिए कहा गया था. जिसके बाद  जम्मू कश्मीर विशेष दर्जा देने वाले अनुछेद 370 के अहम प्रावधान को निरस्त किया गया. और इसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटा गया. जम्मू कश्मीर और लद्दाख यह दो केंद्रशासित प्रदेश बन गए.