modi-pawar

    नयी दिल्ली. जहाँ एक तरफ सुनाई पड़ रहा है कि महाविकास अघाड़ी (MVA) में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है और शिवसेना का झुकाव एक बार फिर BJP कि तरफ हो रहा है . इधर एक अन्य राजनीतिक घटनाक्रम में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) सुप्रीमो शरद पवार (Sharad Pawar) ने देश की मौजूदा परिदृश्य पर चर्चा के लिए राष्ट्रीय राजधानी में मंगलवार को विभिन्न राजनीतिक दलों(गैर-भारतीय जनता पार्टी) के नेताओं और गणमान्य लोगों की जरुरी बैठक बुलायी है।

    इस खबर पर राकांपा नेता एवं महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक मंत्री नवाब मलिक (Nawab Malik) ने अपने ट्वीट में कहा कि, “कल यानि 22 जून मंगलवार को पूर्वाह्न 11.30 बजे हमारे पार्टी अध्यक्ष शरद पवार नयी दिल्ली में छह,जनपथ स्थित अपने आवास में एक बैठक करेंगे।”

    श्री मलिक के अनुसार बैठक में आगामी लोकसभा सत्र और देश में वर्तमान राजनीतिक स्थिति पर भी एक चर्चा की जाएगी। उनका यह भी कहना था कि श्री पवार कल से देश के सभी विपक्षी दलों को एकजुट करने का काम करेंगे। गौरतलब है कि इससे पहले राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने आज दिल्ली में श्री पवार से उनके आवास पर मुलाकात की और उन्हें देश की राजनीतिक स्थिति से भी अपनी तरफ से अवगत कराया।

    मलिक के  अनुसार  BJP में रहे एवं वर्तमान में तृणमूल कांग्रेस नेता यशवंत सिन्हा , राकांपा राज्यसभा सदस्य वंदना चव्हाण , आम आदमी पार्टी (आप) के राज्यसभा सदस्य संजय सिंह , पूर्व सांसद पवन वर्मा , भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी महासचिव डी राजा , जम्मू कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला, जस्टिस एपी सिंह, लेखक जावेद अख्तर और पूर्व राज्यसभा सदस्य केटीएस तुलसी बैठक में शामिल होंगे।

    इस बड़ी और अहम बैठक में वरिष्ठ पत्रकार करण थापर , पूर्व आप नेता आशुतोष , एडवोकेट मजीद मेनन , पूर्व सीईसी एसवाई कुरैशी , पूर्व राजनयिक केसी सिंह, कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता संजय झा, स्तंभकार सुधींद्र कुलकर्णी, वरिष्ठ अधिवक्ता कॉलिन गोंजाल्विस , अर्थशास्त्री अरुण कुमार अर्थशास्त्री, पूर्व विधायक घनश्याम तिवारी और पूर्व सांसद प्रीतिश नंदी भी इसमें शामिल होंगे।

    एक अहम और दिलचस्प तथ्य यह भी है कि उक्त बैठक में भाग लेने वालों में कांग्रेस और कुछ गैर-भाजपा क्षेत्रीय दलों जैसे समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी , राष्ट्रीय जनता दल, द्रमुक और बीजू जनता दल का कोई भी प्रतिनिधि आज शामिल नहीं होगा।