स्मृति ईरानी (Photo Credits-ANI Twitter)
स्मृति ईरानी (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: असम में विधानसभा चुनाव (Assam Election 2021) के मद्देनजर सूबे का सियासी पारा गरमाया हुआ है। केंद्र के कई नेताओं ने राज्य में डेरा डाला हुआ है। असम में सीएए (CAA) और एनआरसी (NRC) का मुद्दा खासा चर्चा में रहा है। इसी बीच केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani)  ने असम के जोरहाट में एक रैली के दौरान बदरुद्दीन अजमल के बहाने कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा है. ईरानी ने कांग्रेस (Congress)  द्वारा अजमल की पार्टी से गठबंधन पर सवाल खड़ा किया है।

    बता दें कि स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता जब जीवित थे तब उन्होंने कहा था कि अजमल से हाथ ​नहीं मिलाना चाहिए। उनके देहांत के बाद कांग्रेस पार्टी ने जाकर उन्हीं लोगों से हाथ मिलाया जो असम की जन​जातियों, असम के इतिहास पर प्रहार करना चाहते हैं।

    ANI का ट्वीट-

    ईरानी ने कहा कि जब केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी, तब 13वें वित्त आयोग में असम के विकास के ​लिए कांग्रेस ने 60,000 करोड़ रुपये तक नहीं भेजे। लेकिन प्रधानसेवक मोदी ने 15वें वित्त आयोग में असम की जनता के कल्याण के लिए 1,70,000 करोड़ रुपये भेजे।