Kangana Ranaut has knocked the court door, demand for cancellation of FIR, Appeal to stop summons

मुंबई: बांद्रा पुलिस ने कथित तौर पर दो समुदायों के बीच शत्रुता बढ़ाने और अन्य आरोपों के लिए बांद्रा कोर्ट के आदेश पर अभिनेत्री कंगना रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल के विरुद्ध शनिवार को एफआईआर दर्ज कर ली है। 

बांद्रा मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट ने बॉलीवुड के एक चरित्र निर्देशक मुनावर अली सय्यद की शिकायत पर पुलिस को जांच करने के आदेश दिए हैं। शिकायत में रनौत और उनकी बहन द्वारा किए गए ट्वीट तथा अन्य बयानों का हवाला दिया गया था।

मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट जयदेव वाई घुले ने शुक्रवार को दिए आदेश में कहा था कि प्रथम दृष्टया आरोपी ने “संज्ञेय अपराध” किया है। घुले ने इस मामले में पुलिस को कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। 

धार्मिक भावना आहत करना, राजद्रोह की धाराओं के तहत मामला दर्ज

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि, कोर्ट के आदेश पर बांद्रा पुलिस ने रनौत और उनकी बहन रंगोली चंदेल के विरुद्ध IPC की धारा 153 ए (धर्म, नस्ल इत्यादि के आधार पर विभिन्न समुदायों के बीच वैमनस्य बढ़ाना), 295 ए (धार्मिक भावनाओं को जानबूझकर आहत करना) और 124 ए (राजद्रोह) के तहत मामला दर्ज किया है। 

 रनौत ने “बेहद आपत्तिजनक” टिप्पणियां की – शिकायतकर्ता

सय्यद के वकील के अनुसार शिकायत में कहा गया कि पिछले दो महीने से रनौत अपने ट्वीट और टीवी पर दिए गए साक्षात्कार के द्वारा बॉलीवुड को “भाई भतीजावाद का गढ़”, “भेदभाव का स्थान” इत्यादि कह कर बदनाम कर रही हैं। शिकायतकर्ता ने यह भी कहा कि रनौत ने “बेहद आपत्तिजनक” टिप्पणियां की जिनसे न केवल शिकायतकर्ता की बल्कि कई कलाकारों की धार्मिक भावनाएं आहत हुई। शिकायत में कहा गया कि रनौत कलाकारों को साम्प्रदायिकता के आधार पर बांटने का प्रयास कर रही हैं। सय्यद ने कहा, “उनकी बहन ने भी दो धर्मिक समूहों के बीच सांप्रदायिक तनाव फैलाने के लिए सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी की।” 

कंगना बोलीं मुझे इतना मिस मत करिए, मैं जल्द ही वहां वापस लौटूंगी

वहीं इस मामले में कंगना ने ट्वीट करते हुए लिखा, “मेरे खिलाफ एक और एफआईआर दर्ज, महाराष्ट्र में पप्पू सेना मुझ पर पलटवार करती दिख रही है। मुझे इतना मिस मत करिए, मैं जल्द ही वहां वापस लौटूंगी।”