Baramulla terrorist attack heart-wrenching: He kept asking innocently why my father is not getting up

बारामूला. जम्मू-कश्मीर में बारामूला जिले के सोपोर में बुधवार को आतंकवादियों ने सुरक्षाकर्मियों के एक दल पर हमला कर दिया, जिसमें सीआरपीएफ के कम से कम एक जवान और अन्य नागरिक की जान चली गई। आतंकवादी हमले में दो अन्य जवान घायल भी हुए हैं। अधिकारियों ने बताया कि सोपोर इलाके में आतंकवादियों ने सुरक्षा बल के एक नाका दल पर गोलियां चला दीं, जिसमें सीआरपीएफ के तीन जवान और एक अन्य नागरिक घायल हो गए।

उन्होंने बताया कि घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं हमलावरों को पकड़ने के लिए इलाके की घेराबंदी की गई है। अधिकारियों ने बताया कि सीआरपीएफ के एक जवान और एक नागरिक को अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया। इस घटना में मरने वाले नागरिक के 3 साल के बच्चे को जम्मू पुलिस ने बचा लिया है। लेकिन यह नन्हा बालक अपने दादा के मृत देह पर बैठकर उन्हें उठाने की कोशिश करता रहा। लेकिन उसके दादा फिर भी नहीं उठे। 

इस बालक का जम्मू कश्मीर पुलिस के लोगों ने मन बहलाने की कोशिश भी की लेकिन इस मासूम के छोटे से बड़े सवालों का जवाब तो उन लोगों के पास भी नहीं था जो सिर्फ़ यही पूछता रहा कि उसके दादा क्यों नहीं उठ रहे और वह बारम्बार अपनी मम्मी के पास जाने की बात करता रहा । आज इंसानियत शर्मसार है और इससे ज्यादा हृदयविदारक कुछ नहीं हो सकता जब एक छोटा सा मासूम बंदूकों को चलता देखे और अपनों को मरता देखे। जरुरत है दोनों देशों को अमन के लिए कुछ करने की वरना शायद सब कुछ ऐसे ही ख़त्म हो जाएगा और हम फिर इस मासूम की तरह कुछ सवाल भी ना कर पाएंगे।