भारत बंद:  बंगाल में कई ट्रेनें रद्द हुई

10.28 A.Mभारत बंद विरोध के दौरान इन ट्रेनों को विभिन्न स्टेशनों पर रोका गया है। भद्रक में बहादुर-ब्रह्मपुर पैसेंजर, केंदुझारगढ़ में केंदुझारगढ़-भुवनेश्वर पैसेंजर, भुवनेश्वर

 

  •  03. 40 P.M  ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के दौरान ओडिशा में 500 से अधिक प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया था। गिरफ्तार किए गए लोगों में विभिन्न ट्रेड यूनियनों के सदस्य और कांग्रेस पार्टी के समर्थक शामिल हैं।
  •  03. 14 P.M दिल्ली: दिल्ली विश्वविद्यालय के नॉर्थ कैंपस में नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स (NRC) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन. दस ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद के समर्थन में यह छात्र सड़कों पर उतरे हैं.
  •  02. 44 P.M पश्‍चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, CPIM की कोई विचारधारा नहीं। रेलवेट्रैक पर बम लगाना गुंडागर्दी है. आंदोलन के नाम पर यात्रियों को पीटा गया और पत्‍थरबाजी की जा रही है। यह दादागिरी है न कि आंदोलन। मैं इसकी निंदा करती हूं.
  • 01. 44 P.M  केंद्र की ‘‘जनविरोधी नीतियों’’ के खिलाफ ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाई गई हड़ताल के कारण बुधवार को असम में आम जनजीवन प्रभावित रहा और सड़कों से वाहन नदारद रहे तथा दुकानें भी बंद रहीं। दुकानें और बाजार बंद रहे, लेकिन दवा की दुकानें खुली रहीं। शैक्षणिक संस्थान खासकर स्कूल बंद रहे। कॉलेजों एवं उच्च शिक्षण संस्थानों में पूर्वनिर्धारित परीक्षाएं सामान्य तरीके से आयोजित हुईं। अधिकतर निजी कार्यालय बंद रहे लेकिन राज्य सरकार के कार्यालय खुले रहे। हड़ताल के दौरान सरकारी दफ्तरों में कामकाज सामान्य रूप से चले इसे सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकार ने मंडल आयुक्तों और जिला उपायुक्तों को मंगलवार को दिशानिर्देश जारी किए था और वेतन कटौती एवं अन्य कार्रवाई की चेतावनी भी दी थी। समूचे राज्य में अधिकतर बैंक बंद रहे।
  • 01. 34 P.M कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने बुधवार को कहा कि देशव्यापी बंद जीएसटी के कारण बुलाया गया है, जिस तरह से इसे लागू किया गया है उससे व्यवसाय काफी प्रभावित हुआ है.
  • 01. 30 P.M  समाचार एजेंसी आइएएनएस के अनुसार ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाए गए बंद के दौरान दिल्ली में यातायात काफी हद तक अप्रभावित रहा. 
  • 01. 28 P.M ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाए गए बंद पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि बंगाल में बंद का हम समर्थन नहीं करेंगे. इसे लागू करने की कोशिश करने वालों का बंगाल में कोई राजनीतिक आधार नहीं है.
  • 01. 25 P.M यूनियन की तरफ से 13 सूत्री मांगें रखी गई हैं, जिनमें आम लोगों की जरूरत वाली चीजों के बढ़ते दाम को काबू करना भी शामिल है. ये मांगे हैं:-
  1. 1. पब्लिक डिस्ट्रिब्यूशन सिस्टम, बेरोजगारी, महंगाई पर काबू पाने के लिए नीति बनाना.
  2. 2. मजदूरों की तन्ख्वाह बढ़ाना. यूनियन की मांग है कि मजदूरों की न्यूनतम तन्ख्वाह 21 हजार रुपये प्रति माह होनी चाहिए.
  3. 3. सोशल हेल्थ सर्विस में खुद को शामिल करना.
  4. 4. मजदूरों को मिड डे मील मिलना
  5. 5. 6000 रुपये की न्यूनतम पेंशन
  6. 6. पब्लिक सेक्टर बैंक के मर्जर का विरोध
  •  01. 15 P.M बंगाल में भारत बंद का व्यापक असर दिख रहा है. अभी तक हावड़ा से कुल 42 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं. हालांकि, सरकारी दफ्तरों में 90 फीसदी से अधिक उपस्थिति दर्ज की गई है.
  • 12. 45 P.M ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाए गए बंद के मद्देनजर दिल्ली में अलग-अलग संगठनों द्वारा विरोध मार्च निकाला गया .
  • 12. 35 P.M  बंगाल के अलावा दिल्ली, पंजाब में भी भारत बंद का असर दिख रहा है. पंजाब के अमृतसर में प्रदर्शनकारियों ने रेलवे ट्रैक पर जाम लगाया तो वहीं दूसरी ओर दिल्ली में ट्रेड यूनियन की तरफ से मार्च निकाला गया.
  • 12.11 P.M ट्रेड यूनियन द्वारा आज बुलाए गए देशव्यापी बंद के दौरान बिहार में CPI-M के कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए सड़कें जाम की और टायर जलाए.
  • 12.01 P.M देश के कई हिस्सों में भले ही भारत बंद का असर दिख रहा हो, लेकिन आज भी मुंबई के डिब्बेवालों का काम जारी है.
  • 11.59 A.M  बंगाल के कूच बिहार में भारत बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों ने एक सरकारी बस में तोड़फोड़ की है. बंगाल में प्रदर्शनकारियों के द्वारा लगातार बस को रोका जा रहा है और हाइवे में जाम लगाया जा रहा है.
  • 11.57 A.M  मुंबई में बुधवार को ट्रेड यूनियन द्वारा आज बुलाए गए देशव्यापी बंद में सत्तारूढ़ शिवसेना सहित सरकारी, निजी क्षेत्रों, बैंकों और अन्य प्रतिष्ठानों के लोग बड़ी संख्या में शामिल हुए.
  • 11.55 A.M  ट्रेड यूनियन द्वारा आज बुलाए गए देशव्यापी बंद के दौरान CPI-M के कार्यकर्ताओं ने पटना-आरा हाईवे को जाम कर दिया। इससे यहां आवागमन ठप हो गया है. 
  • 11.45 A.M मुंबई में बुधवार को ट्रेड यूनियन द्वारा आज बुलाए गए देशव्यापी बंद में सत्तारूढ़ शिवसेना सहित सरकारी, निजी क्षेत्रों, बैंकों और अन्य प्रतिष्ठानों के लोग बड़ी संख्या में शामिल हुए.
  • 11.35 A.M उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अखिल भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) के कर्मचारियों ने बुधवार को ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाए गए भारत बंद में भाग लिया.
  • 11.25 A.M केंद्र सरकार की ‘‘जन-विरोधी’’ नीतियों के खिलाफ बुधवार को आहूत एक दिन की हड़ताल के समर्थन में मजदूर संगठनों के साथ ही वामपंथी दलों और कांग्रेस समर्थकों के प्रदर्शनों के चलते पश्चिम बंगाल के कई हिस्सों में सड़क और रेल यातायात बाधित हुआ. वहीं उत्तरी 24 परगना के ह्रदयापुर स्टेशक के समीप रेल ट्रैक पर पुलिस ने चार क्रूड बम बरामद किए हैं. हड़ताल समर्थकों ने राज्य के कुछ हिस्सों में रैलियां निकालीं और उत्तर 24 परगना जिले में सड़कों और रेलवे पटरियों को अवरुद्ध कर दिया. हालांकि, पुलिस ने तत्काल वाहनों की आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए उन्हें हटा दिया. कोलकाता में सरकारी बसें सामान्य रूप से चल रही हैं, लेकिन शुरुआती घंटों में निजी बसों की संख्या कम थी. इस दौरान शहर में मेट्रो सेवाएं सामान्य थीं और सड़कों पर ऑटो-रिक्शा तथा टैक्सियां भी चल रही थीं।शहर के कई इलाकों में भारी पुलिस तैनाती देखी गई है.
  • 11.20 A.M 10 केंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने दावा किया है कि आठ जनवरी को राष्ट्रव्यापी हड़ताल में 25 करोड़ लोग शामिल होंगे। एक कार्यालय ज्ञापन में कहा गया है, ‘‘कोई भी कर्मचारी यदि हड़ताल पर जाता है तो उसे इसका नतीजा भुगतना होगा। उसका वेतन काटने के अलावा उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई भी की जा सकती है।’’
  • 11.10 A.M ट्रेड यूनियन द्वारा आज बुलाए गए देशव्यापी बंद के मद्देनजर केरल के तिरुवनंतपुरम में एक विरोध मार्च निकाला गया. 
  • 11.05 A.M पश्चिम बंगाल के उत्तर 24 परगना में हृदयपुर स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक से पुलिस द्वारा चार देसी बम बरामद किए गए हैं.
  • 10.58 A.M महाराष्ट्र सरकार में मंत्री अशोक चव्हाण ने कहा है कि वह ट्रेड यूनियन के द्वारा बुलाए गए भारत बंद का समर्थन करते हैं.
  • 10.57 A.M प्रदर्शनकारियों को विजयवाड़ा, गुटूर, ओंगोले, विशाखापत्तनम, कडप्पा और अन्य शहरों में गिरफ्तार किया गया। जब उन्होंने रोड ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (आरटीसी) की बसों को डिपो से बाहर निकलने से रोकने की कोशिश की थी। 
  • 10.53 A.M आंध्र प्रदेश में पुलिस ने वामपंथी दलों और ट्रेड यूनियनों के नेताओं को गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने बुधवार को राष्ट्रव्यापी बंद के तहत बसों को रोकने की कोशिश की और सड़क जाम करने की कोशिश की.
  • 10.43 A.M ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाए गए बंद को लेकर उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट जारी किया गया है। कई ट्रेड यूनियनों ने बंद के आह्वान पर समर्थन दिया है। उन्होंने हड़ताल में भाग लेंने की बात कही है. बैंक यूनियनों, डाक कर्मचारियों, जीवन बीमा और बीएसएनएल कर्मचारियों ने कहा है कि वे हड़ताल में शामिल होंगे। बिजली कर्मचारी भी अपनी मांगों के समर्थन में कार्य बहिष्कार करेंगे.
  •  10.38 A.M ट्रेड यूनियनों के देशव्यापी बंद का असर पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में ज्यादा देखने को नहीं मिला। राज्यों में कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की कोई रिपोर्ट नहीं है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.
  •  10.28 A.M भारत बंद विरोध के दौरान इन ट्रेनों को विभिन्न स्टेशनों पर रोका गया है। भद्रक में बहादुर-ब्रह्मपुर पैसेंजर, केंदुझारगढ़ में केंदुझारगढ़-भुवनेश्वर पैसेंजर, भुवनेश्वर में भुवनेश्वर-बालागंज इंटरसिटी, ब्रह्मपुरा में हावड़ा-यशवंतपुर एक्सप्रेस और भुवनेश्वर में पुरी-राउरकेला पैसेंजर.
  •  09.24 A.M ट्रेड यूनियनों द्वारा बुलाए गए बंद के दौरान मुंबई में भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड के कर्मचारियों ने भारत पेट्रोलियम के रणनीतिक विनिवेश के सरकार के फैसले का विरोध किया. 
  • 09.04 A.M  कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारत बंद का समर्थन किया है. राहुल ने ट्वीट कर लिखा है कि मोदी सरकार की आर्थिक विरोधी नीतियों के खिलाफ जो आवाज उठाई जा रही है, उन कर्मचारियों को वो सलाम करते हैं.
  • 08.44 A.M  बंगाल के बाद अब ओडिशा में भी भारत बंद का असर दिख रहा है. भुवनेश्नर में कांग्रेस समर्थित ट्रेड यूनियन के कार्यकर्ताओं ने सड़क को ब्लॉक किया, इसके अलावा ट्रेन को भी रोका गया.
  • 08.34 A.M बंगाल में भारत बंद का बड़ा असर दिख रहा है यहां सिलिगुड़ी में राज्य सरकार की बस के ड्राइवर हेल्मेट पहनकर बस चला रहे हैं. ताकि अगर प्रदर्शनकारियों की ओर से कोई हमला किया जाता है, तो उसका सामना किया जा सके.
नई दिल्ली,  आज देश भर के  श्रमिक और किसान संगठनों ने राष्ट्रव्यापी  हड़ताल  आरम्भ किया है। इस बंद के कारण बैंकिंग, परिवहन और अन्य जरूरी सेवाएं प्रभावित  हुई या पूरी तरह ठप्प हो गयीं हैं।  ख़बरों के अनुसार ये हड़ताल सरकार द्वारा जन विरोधी नीतिओं के चलते इसका आह्वान किया गया है। इस बंद की जिम्मेदारी इंटक, एटक, सिटू, हिंद मजदूर सभा, एआईयूटीयूसी, टीयूसीसी, सेवा, आईआईसीसीटीयू, एलपीएफ, यूटीयूसी  ने ली है।