Covaxin

    नई दिल्ली: स्वदेशी वैक्सीन निर्माता कंपनी भारत बायोटेक ने कोवैक्सीन के तीसरे चरण के ट्रायल डाटा सरकार को सौंप दिया है। अपने आखिरी चरण में कोवैक्सीन कोरोना के सभी वेरिएंट पर 77. 8 प्रतिशत प्रभावी पाई गई है।  

    मंगलवार सुबह भारत बायोटेक ने भारत के औषधि महानियंत्रक के साथ बैठक की। इस दौरान कंपनी ने तीसरे चरण का पूरा डाटा डीसीजीआई को सौंप दिया। 

    वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, भारत बायोटेक के कोवैक्सिन को आज ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) से मंजूरी मिलने की संभावना है। 

    सारी शंकाओं पर विराम लग गया

    Covaxin प्रभावकारिता पर एम्स COVID टास्क फोर्स के अध्यक्ष डॉ. नवीत विग ने कहा, “टीका सुरक्षित है। यह इम्युनोजेनिक है और यह जान बचाएगा। अब सारी शंकाओं पर विराम लग गया है। हमें जितनी जल्दी हो सके अधिक लोगों को टीका लगाने की आवश्यकता है क्योंकि डेल्टा संस्करण चारों ओर है।”

    ज्ञात हो कि, देश में कोवैक्सीन को लेकर लगातार विवाद हो रहा है। जब से भारत सरकार ने वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दी है, तब से विपक्षी दलों द्वारा इसके क्लीनिकल ट्रायल को लेकर सवाल खड़े करते आ रहे हैं। कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कोवैक्सीन नहीं लगाने की मांग भी की थी।