JYOTI

    दरभंगा. एक बड़ी खबर के अनुसार बिहार के दरभंगा की रहने वाली ‘साइकिल गर्ल’ ज्योति कुमारी के पिता मोहन पासवान का दुखद निधन हो गया है। मिली जानकारी के अनुसार, उनकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई है। गौरतलब है कि बीते साल 2020 को लॉकडाउन के दौरान ज्योति ने अपने पिता को साइकिल पर बिठाकर हरियाणा के गुरुग्राम से 1200 किलोमीटर की दूरी तय कर बिहार के दरभंगा पहुंची थीं। उनके इस साहसिक कदम की वजह से ही ज्योति ‘साइकिल गर्ल’ के नाम से भी चर्चित हुईं थी।

    बता दें कि ज्योति का घर दरभंगा के सिंहवाड़ा प्रखंड के सिरहुल्ली गांव में है। यहीं उनके पिता मोहन पासवान अपने परिवार के साथ निवासरत थे। इसी बीच बीते सोमवार को उनके हार्ट अटैक से निधन की खबर सामने आई थी। इतना ही नहीं उनके परिजनों ने भी उनके मौत की पुष्टि की है। जिसके बाद फिलहाल गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है।

    बता दें कि ज्योति कुमार उस समय सुर्खियों में आई थीं जब बीते साल देशभर में लॉकडाउन लगा हुआ था। उस समय काम-धंधा ठप होने की वजह से बड़ी संख्या में मजदूर दूसरे शहरों से अपने घरों को पलायन कर रहे थे। इसमें कई बेचारे प्रवासी मजदूर पैदल चलकर या फिर साइकिल चलाकर अपने घरों को पहुंचे थे। इसी दौरान दरभंगा की इस निडर बेटी ज्योति कुमारी भी अपने पिता को गुड़गांव से साइकिल पर बिठाकर 1200 किलोमीटर की दूरी तय कर दरभंगा ले आई थीं।

    यह भी खबर है किजिस समय ज्योति अपने पिता को गांव लेकर आई थी तभी से उसके पिता की तबीयत खराब ही चल रही थी। इसी के चलते तब ज्योति ने उन्हें साइकिल से घर लाने का फैसला किया। करीब 1200 किमी यह कठिन सफ़र उन लोगों ने साइकिल से करीब 8 दिनों में पूरा किया था। उसके बाद से उनका परिवार दरभंगा के सिंहवाड़ा प्रखंड के सिरहुल्ली गांव में रह रहा था। इसी बीच सोमवार को ज्योति के पिता की हार्ट अटैक से दुखद मौत हो गई है।