gopalganj

    गोपालगंज. शादी में आपने मारपीट के अनेकों किस्से सुने होंगे। लेकिन ये किस्सा थोडा अनोखा है। दरअसल गोपालगंज (Gopalganj) के एक शादी समारोह में मछली (Fish) के पसंदीदा पीस यानी ‘सिर का हिस्सा’ खाने को लेकर जोरदार झगडा हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार, मछली के पसंदीदा पीस के लिए यहाँ एक शादी में पहले तो बहस हुई और फिर यह बवाल इस कदर बढ़ा कि 11 लोगों को इस चक्कर में अस्पताल में भर्ती कराना पड़ गया।

     यह मामला गोपालगंज के भोरे थाना क्षेत्र के सिसई टोला के भटवलिया गांव का है। बताया जा रहा है कि भटवलिया गांव के रहने वाले छठू गोंड के यहां शादी थी जिसमे बारात आई हुई थी। वहीं इन बारातियों की ख़ास खातिरदारी के लिए मछली, चावल का इंतजाम किया गया था।

    इस न्योते में राजू गोंड और मुन्ना गोंड बारातियों को मछली और चावल परोस रहे थे। तभी छठू गोंड के पड़ोसी अजय गोंड और अभय गोंड अपने जाननेवाले मेहमानो को लेकर आये और मछली-चावल खाने के लिए बैठ गए। खाने के पहले राउंड में उनको दो-दो पीस मछली दिया गया। यहां तक तो  सबकुछ ठीक ठाक ही चल रहा था। तभी दूसरे राउंड में इन लोगो ने ‘मछली के सर’ की फरमाइश की। जब उनका पसंदीदा मछली का पीस नहीं दिए जाने पर खाना परोस रहे अजय-अभय और उसके साथ आए मेहमान इस कदर गुस्सा हुए कि खाना परोस रहे राजू और मुन्ना की बेरहमी से ताबड़तोड़ पिटाई कर दी।

    इस हंगामा और मारपीट की सूचना पर छठू गोंड भी पहुंच गए। देखते ही देखते शादी के जश्न का माहौल तभी एक खुनी जंग में बदल गया। इस भयंकर मारपीट के दौरान जमकर कुर्सियां चलीं। इस खतरनाक  हिंसा में दोनों पक्ष के 11 लोग जख्मी हो गए। इस जगह हालात और भी ज्यादा बिगड़ सकते थे अगर वक़्त पर गांव वाले बीच में ना आते। बाद में ‘घायलों का रेफरल अस्पताल ‘भोरे’ और कुछ को यहीं के सदर अस्पताल में भी भर्ती कराया गया है।

    फिलहाल इन घायलों में कई की हालत गंभीर बताई जा रही है। अब इस मामले में पुलिस से भी शिकायत की गई है। जिसके बाद पुलिस दो पक्षों का बयान दर्ज कर उचित कार्रवाई कर रही है। बताया जा रहा है कि गोपालगंज में शादी समारोह के दौरान बवाल की ये कोई पहली और नयी घटना नहीं है। इससे पहले भी उचकागांव थाने के नरकटिया गांव में महज ‘पूरी सब्जी’ खाने को लेकर भयंकर विवाद हुआ था। इस मारपीट में तो फायरिंग भी हो गई थी जिसमें एक व्यक्ति की गोली लगने से मौत भी हो गई थी।