चाचा से मिलने पहुंचे चिराग (Photo Credits-ANI Twitter)
चाचा से मिलने पहुंचे चिराग (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: बिहार में राम विलास पासवान की पार्टी एलजेपी (LJP) में सब ठीक नहीं है। जिससे सियासी घमासान (Bihar Politics) शुरू हो गया है। पार्टी के भीतर चिराग पासवान से चाचा सहित पांच सांसद नाराज बताए जा रहे हैं। आलम यह है कि राम विलास पासवान के भाई पशुपति अपने पांच सांसदों को लेकर पार्टी पर अपना अधिकार जता रहे हैं। इन सब के बीच चिराग पासवान ने चाचा को मनाने की कवायद शुरू कर दी है।  

    ज्ञात हो कि चाचा पशुपति पारस को मनाने के लिए चिराग पासवान उनके घर पहुंचे लेकिन वे मिले नहीं हैं। राजधानी दिल्ली में 12 जनपथ से चिराग पासवान सीधे अपने चाचा के घर पहुंचे हैं।  चाचा घर पर नहीं हैं उनके भाई प्रिंस राज घर पर थे।  चिराग की उनसे बातचीत चल रही है।  

    उल्लेखनीय है कि चिराग के साथ एलजेपी बिहार के अध्यक्ष राजू तिवारी भी पहुंचें हैं। लेकिन पशुपति पारस घर पर नहीं हैं। इससे पहले पारस ने कहा कि हमनें पार्टी तोड़ी नहीं बल्कि बनाई है। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के पांच सांसदों की इच्छा है कि पार्टी को बचाया जाए। जब तक मैं जिंदा हूं पार्टी को जिंदा रखेंगे।  

    वहीं दूसरी तरफ जेडीयू में शामिल होने को लेकर पशुपति पारस ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं। उनका कहना है कि मैं शुरू से एनडीए के साथ रहा हूं, हम एनडीए के साथ ही रहेंगे। साथ ही पारस ने कहा कि मैं नीतीश कुमार को एक अच्छा नेता मानता हूं।