Bihar RJD vice-president Vijendra Yadav resigns from the party's post

आरा (बिहार): राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के प्रदेश उपाध्यक्ष विजेंद्र यादव ने शनिवार को पार्टी से अपना इस्तीफा देते हुए कहा कि किसी भी पुराने नेता को पार्टी में सम्मान नहीं मिल रहा है। विजेंदर यादव, जिन्हें “किंगमेकर” कहा जाता है, ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपनी इस्तीफे की यह घोषणा की। पूर्व विधायक रहे विजेंद्र यादव ने भी पार्टी पद से भी अपना इस्तीफा दे दिया। उन्होंने कहा कि वह राजद सुप्रीमो लालू यादव और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के करीबियों में से एक थे। उन्होंने कहा, “लालू जी 1990 और 2000 के दौरान जैसे थे अब वैसे नहीं रहे वे बदल गए हैं। इसलिए, परिवर्तन आवश्यक है और इसलिए, मैं इस्तीफा दे रहा हूं।”

उन्होंने कहा कि “मुझे लगातार 10 वर्षों से पार्टी द्वारा नजरअंदाज किया गया है। लालू जी हमारे नेता हैं और वह हमारे लिए समान बने रहेंगे। इस पार्टी में पुराने नेताओं की अनदेखी की जा रही है और नए नेता चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि कई सम्मेलन का आयोजन जिले में हुआ था, इस दौरान मुझे मंच पर मौजूद होने के बावजूद बोलने का कोई मौका नहीं दिया गया।” उन्होंने आगे कहा कि “अब, किसी भी पुराने नेता को इस पार्टी में सम्मान नहीं मिल रहा है। मैं 1984 से सक्रिय राजनीति में हूं। मैंने सोचा था कि जिस तरह से मैंने लालू जी के साथ राजनीति शुरू की है, मैं उसी तरह से इसे समाप्त करूंगा। लेकिन पार्टी नहीं चाहती कि मैं इस तरह से अपनी राजनीतिक यात्रा इस पार्टी के साथ समाप्त करू।”

विजेंद्र यादव ने कहा “मुझे दुख है कि मैं इस पार्टी को छोड़ रहा हूं क्योंकि मैं पिछले 30 सालों से इस पार्टी से जुड़ा हुआ हूं। मैं अभी भी जनता की नजर में इसी पार्टी का एक नेता हूं। जब मुझे पार्टी में कोई जिम्मेदारी नहीं दी गई है, तो कैसे और क्या मैं यहां रह पाऊंगा? इसीलिए मैंने इस पार्टी को छोड़ने का फैसला किया है।” उन्होंने अभी तक किसी भी पार्टी में शामिल होने या नई पार्टी बनाने की घोषणा नहीं की है। उन्होंने कहा, “मैं एक ऐसी पार्टी में शामिल होऊंगा, जो मुझे सम्मान देगी लेकिन मैं इस पार्टी (राजद) के साथ अब नहीं रहूंगा।”