jaya

मुंबई. राज्य सभा सांसद व अभिनेत्री जया बच्चन (jaya bachhan) द्वारा संसद में हिंदी फिल्म उद्योग (Hindi Film Industry) को बदनाम करने को लेकर दिए गए बयान की उनके साथी कलाकारों ने तारीफ की है। हालांकि बच्चन ने राज्य सभा में अपने भाषण में किसी का नाम नहीं लिया लेकिन उनकी यह टिप्पणी लोक सभा सांसद और भोजपुरी अभिनेता रवि किशन (Bhojpuri Actor Ravi Kishan) की टिप्पणी के एक दिन बाद आई। अभिनेता ने कहा था कि फिल्म उद्योग में मादक पदार्थों का सेवन एक समस्या है।

सांसद ने कहा कि वह मनोरंजन उद्योग को ‘गंदा नाला’ कहने वालों से असहमत हैं। प्रोड्यूसर गिल्ड ऑफ इंडिया समेत अनुभव सिन्हा, फरहान अख्तर, सोनम कपूर और तापसी पन्नू जैसे कलाकारों ने सांसद की तारीफ की लेकिन अभिनेत्री कंगना रनौत ने उनके भाषण की आलोचना करते हुए एक पोस्ट लिखा।

रनौत दावा कर चुकी हैं कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के पीछे मूवी माफिया जिम्मेदार है और उन्होंने बॉलीवुड को ‘गंदा नाला’ बताया था। बच्चन ने कहा कि मनोरंजन उद्योग रोजाना सीधे तौर पर पांच लाख लोगों को रोजगार देता है। उन्होंने लिखा, ” मुझे कल बहुत बुरा लगा जब लोकसभा के एक सदस्य जो खुद फिल्म उद्योग से ताल्लुक रखते हैं, ने फिल्म उद्योग के बारे में खराब बोला। जिस थाली में खाते हैं उसी में छेद करते हैं। गलत बात है।” बच्चन साफ तौर पर किशन के बयान की तरफ इशारा कर रही थीं।

बच्चन के भाषण को शेयर करते हुए फिल्मनिर्माता अनुभव सिन्हा ने ट्विटर पर लिखा, ”जया जी को सादर प्रणाम भेजता हूँ। जिनको पता नहीं वो देख लें। रीढ़ की हड्डी ऐसी दिखती है।

अभिनेत्री सोनम कपूर ने कहा, ” मैं बड़ी होकर ऐसी बनना चाहूंगी।” 

बच्चन ने कहा, ” मैं उम्मीद करती हूं कि जिन लोगों ने यहां दौलत और शोहरत कमाई, सरकार उन लोगों से कहेगी कि वे इस तरह की भाषा का प्रयोग न करें। मेरा मानना है कि यह बहुत जरूरी है कि सरकार फिल्म उद्योग का समर्थन करे न कि इसे खत्म करे। कुछ लोगों की वजह से, आप पूरे उद्योग की छवि को खराब नहीं कर सकते हैं।”

अभिनेत्री तापसी पन्नू ने कहा कि वह बच्चन से सहमत हैं कि फिल्म उद्योग ने संकट के समय हमेशा हाथ बढ़ाया है और यह अब ‘कर्ज चुकाने’ का समय है।

प्रोड्यूसर गिल्ड ऑफ इंडिया ने भी हैशटैग रिस्पेक्ट ‘आदर’ का इस्तेमाल किया। गिल्ड ने फिल्म उद्योग के साथ खड़े होने के लिए बच्चन का शुक्रिया अदा किया।

इंडिया टुडे के साथ साक्षात्कार में मनोज बाजपेयी ने कहा कि फिल्म उद्योग को जिस तरह से मादक पदार्थ का अड्डा बताया जा रहा है, वह बिल्कुल ‘अनुचित’ है। वहीं फिल्मनिर्माता जोया अख्तर, निर्देशक अनिल शर्मा और अभिनेता-निर्माता निखिल द्विवेदी भी बच्चन के समर्थन में आए हैं।

हालांकि अभनेत्री कंगना रनौत ने सीधे जया बच्चन से सवाल पूछते हुए ट्वीट किया, ” जया जी, क्या आप तब भी यही बात कहतीं जब मेरी जगह आपकी बेटी श्वेता को किशोरावस्था में पीटा जाता, मादक पदार्थ दिया जाता, उत्पीड़न किया जाता? क्या आप तब भी यही बात बोलतीं जब अभिषेक लगातार धौंस और प्रताड़ना की शिकायत करते और एक दिन फांसी से लटके मिलते? हमारे लिए दया दिखाइए।”