Remdesivir
Representational Pic

    नई दिल्ली: कोरोना (Corona Virus) के इलाज में महत्वपूर्ण मानी जाने वाली रेमडेसिविर इंजेक्शन (Remdiesivir) का निर्माण करने वाली कंपनियों ने जनता को बड़ी राहत दी है। कंपनियों ने इंजेक्शन की कीमत को 3,500 से कम कर दिया है। इसी के साथ इंजेक्शन का उत्पादन भी लगभग दोगुना कर दिया है। इस बात की जानकारी केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्रालय (Central Chemicals and Fertilizers Ministry) ने गुरुवार को दी।

    दवा निर्माता के साथ सरकार की बैठक

    मंत्रालय ने बताया कि, “12-13 मार्च को केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया (Mansukh Mandaviya) ने रेमडेसिवीर दवा के निर्माता और अन्य हितधारकों के साथ बैठक की। बैठक के दौरान रेमडेसिवीर की उपलब्धता रेमडेसिवीर के उत्पादन/आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों को कम करने सहित कई मुद्दों पर बात की गई।”

    इंजेक्शन का उत्पादन हुआ दोगुना

    मंत्रालय ने आगे कहा, “रेमडेसिवीर के 7 निर्माताओं की वर्तमान कुल क्षमता 38.80 लाख शीशी प्रति महीना है। 10 निर्माताओं के लिए 10 लाख शीशियों /महीने की उत्पादन क्षमता वाले 7 और स्थलों के लिए फास्ट-ट्रैक स्वीकृति दी गई। जिससे 30 लाख शीशियों/महीने के उत्पादन में वृद्धि हुई है।”

    स्वेच्छा से किए दाम कम 

    मंत्रालय ने आगे बताया कि, “के निर्माताओं ने इस सप्ताह के अंत तक कीमत को 3500 रुपये से कम करने के लिए स्वेच्छा से काम किया है। वहीं राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) दवा की उपलब्धता की निरंतर निगरानी कर रहा है।”

    80 लाख शीशियों/माह तक बढ़ेगा उत्पादन 

    वहीं मंत्री मंडाविया ने कहा, “भारत सरकार ने रेमेडिसविर दवा के उत्पादन, आपूर्ति और कीमतों को कम करने का फैसला किया है। इससे  80 लाख शीशियां प्रति माह तक बढ़ेगा उत्पादन बढ़ जाएगी। इस सप्ताह के अंत तक मूल्य कम करने के लिए रेमेडिसवियर के निर्माता 3500 रुपये से कम हो गया है।”