Lockdown in Malkapur till 15, all the shops of essential commodities will remain closed

नई दिल्ली: केंद्र सरकार कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लगाए लॉक डाउन को और बढ़ा सकती हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार  प्रधानमंत्री कार्यालय इसके लिए बढ़ा गहन विचार कर रहा हैं. बतादें कि देश के कई मुख्यमंत्रियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लॉक डाउन को और दो हफ्ते बढ़ने की मांग कर चुके हैं.  

मंत्री समूह की बैठक में हुई चर्चा 
लॉक डाउन के वजह देश में उत्पन्न हुए हालातों को लेकर आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के आवास पर मंत्री समूह की बैठक हुई. जिसमे  कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों से लेकर राज्यों के मुख्यमंत्रियों द्वारा लॉक डाउन बढ़ने की मांग पर भी चर्चा हुई. इस बैठक में, गृहमंत्री अमित शाह, पियूष गोयल, नरेंद्र सिंह तोमर, थावरचंद गहलोत समेत कई वरिष्ठ मंत्री उपस्तिथ थे. 
 
केसीआर ने लॉक डाउन बढ़ने का किया मांग 
तेलंगाना के मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से देश में लगे लॉक डाउन को जून तक बढ़ने की मांग किया था. जिसमे उन्होंने कहा था की  हम संक्रमित लोगो को ठीक कर वायरस को बढ़ने से रोक लेंगे। 

मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश सरकार ने भी 
तेलंगाना के साथ मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश की सरकारों ने भी लॉक डाउन को बढ़ने की वकालत किया हैं. उत्तर प्रदेश में मुख्यसचिव ने कहा था कि मौजूदा हालातो को देखते हुए यह  की लॉक डाउन 14 अप्रैल को ख़त्म होगा। वहीँ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि लोगों की जिंदगी ज्यादा जरुरी हैं.”
 
14 अप्रैल को ख़त्म होगा लॉक डाउन 
कोरोना वायरस के प्रसार  प[रधानमंत्री मोदी ने 25 मार्च से देश में 21  लॉक डाउन लगाया हुआ हैं, जो 14 अप्रैल को खत्म होने वाला हैं.  देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए इसे और आगे बढ़ाने की मांग हो रही हैं.