chidambaram-modi

नयी दिल्ली. पूर्वी लद्दाख (Laddkah) में सैनिकों को पीछे हटाने को लेकर चीन के साथ बातचीत के बीच, कांग्रेस (Congress) पार्टी ने बृहस्पतिवार को कहा कि अगर किसी बात पर सहमति बनती है तो भारत को संयुक्त बयान पर जोर देना चाहिए क्योंकि इससे बाद में किसी तरह के खंडन का मौका नहीं रहेगा।

कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता पी चिदंबरम (P.Chidambaram) ने कहा कि भारत ने सैनिकों को पीछे हटाने का दावा किया, लेकिन चीन ने ऐसे किसी भी समझौते से इनकार किया। उन्होंने ट्विटर पर कहा कि अगर किसी बात पर सहमति बनती है तो भारत को संयुक्त बयान पर जोर देना चाहिए ताकि दावे और खंडन पर रोक लगे। उन्होंने कहा कि सरकार को बताना चाहिए कि चीन के साथ कभी खत्म नहीं होने वाली वार्ता में क्या चल रहा है।

पूर्व वित्त मंत्री ने कहा, ” जब भी भारत दावा करता है कि सैनिक पीछे हटाने पर सहमति बनी है, तभी चीन इस दावे का खंडन करता है। भारत ने कल एक बयान में दावा किया, चीन ने आज के बयान में सैनिकों को पीछे हटाने की किसी सहमति से इनकार कर दिया है।” सरकारी सूत्रों ने बुधवार को कहा कि भारत और चीन के बीच तनाव घटाने के लिए समयबद्ध तरीके से गतिरोध वाले सभी स्थानों से हथियारों और सैनिकों को पीछे हटाने के संबंध में त्रि-स्तरीय प्रक्रिया पर सहमति बनी है।