कोरोना वायरस से ग्रसित 20,000 लोगों को जान से मारेगा चीन?

नई दिल्ली. चीन सरकार ने कोरोना वायरस से ग्रसित करीब 20,000 लोगों को मारने की मंजूरी के लिए चीन के सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। फिलहाल इस बात की अभी तक पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन इस बारे में

नई दिल्ली. चीन सरकार ने कोरोना वायरस से ग्रसित करीब 20,000 लोगों को मारने की मंजूरी के लिए चीन के सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। फिलहाल इस बात की अभी तक पुष्टि नहीं हुई है। लेकिन इस बारे में सोशल मीडिया पर खबरें वायरल हो रही है। चीन में इस वायरसअब तक ने 30,000 लोगों को अपनी चपेट में लिया है। वहीं 630 नागरिकों की मौत होने की जानकारी है।

आपको बतादें की सबसे पहले इस खतरनाक कोरोना वायरस की जानकारी बताने वाले डॉक्टर ली वेनलियांग की कल 6 फरवरी 2020 को इसी वायरस से मौत हो गई। 

रिपोर्ट के अनुसार 5 फरवरी, 2020 को एबी-टीसी (उर्फ सिटी न्यूज) की वेबसाइट ने एक खबर प्रकाशित की थी, जिसमें दावा किया है कि नए जानलेवा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए उक्त वायरस से ग्रसित 20,000 लोगों की सामूहिक हत्या के लिए चीनी अधिकारी चीन के सुप्रीम कोर्ट से मंजूरी प्राप्त कर रहे है।

इस खबर को पूर्णतः सही नहीं कहा जा सकता है। किंतू वेबसाइट ने इस पर कोई अस्वीकरण भी नहीं लगाया है कि यह कंटेंट गलत अथवा अफवाहों के आधार पर है।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि कोरोना वायरस की वजह से चीन के कम से कम 20 स्वास्थ्य कर्मचारी प्रतिदिन ग्रसित हो रहे हैैं।