सीटों की खींचतान चरम पर, आरजेडी सांसद बोले- ज़िद छोड़े कांग्रेस

हठधर्मिता से नुकसान ना हो जाए. हठधर्मिता गठबंधन पर भारी ना पड़ जाए. बदलाव का इंतजार कर रहे लोगों को मायूसी हाथ ना लगे

पटना: विधानसभा चुनाव की तरीकों का ऐलान को के बाद राजनीतिक दलों में सीटों को लेकर खींचतान शुरू हो गया है. राज्य की विपक्षी गठबंधन कांग्रेस (Congress) और राष्ट्रीय जनता दल (Janta Dal United) के बीच सीटों लिए शुरू चर्चा अब नाज़ुक मोड़ पर पंहुचा गई है. कांग्रेस सीटों को लेकर आरजेडी के रवैया से बेहद नाराज़ हो गई है. वहीं आरजेडी ने नसीहत देते हुए हटधर्मिता छोड़ने को कहा है. 

आरजेडी कांग्रेस को 60-65 सीट दे रही  
सूत्रों से मिली जानकरी के अनुसार आरजेडी कांग्रेस को 60-65 सीट दे रही है, वहीं कांग्रेस 75 सीटों की मांग कर रही है. जिसपर आरजेडी राजी नहीं. दोनों दलों के बीच 15 सीटों पर पेच फंसा हुआ है. जिसके कारण कांग्रेस नाराज़ हो गई है और उसने साफ़ शब्दों में कह दिया है कि उसके सामने खोने के लिए कुछ नहीं है.चुनाव में अकेले उतरने का विकल्प ढूढ़ने लगी है. 

कांग्रेस छोड़े हठधर्मिता 
चुनाव में अधिक सीटों की मांग पर आरजेडी नेता और राज्यसभा सांसद मनोज झा (Manoj Jha) ने कांग्रेस को नसीहत देते हुए कहा, “इस चुनाव के मिजाज को समझिए. यह चुनाव दो सीट आगे-पीछे का चुनाव नहीं है. आपको जो संख्या बताई गई है वह अपने आप में परिपूर्ण है. हठधर्मिता से नुकसान ना हो जाए. हठधर्मिता गठबंधन पर भारी ना पड़ जाए. बदलाव का इंतजार कर रहे लोगों को मायूसी हाथ ना लगे.” 

आरजेडी नेता ने आगे कहा,”लड़ाई का मकसद यह नहीं है कि कौन कितनी सीट पर लड़ रहा है. हम बीजेपी-जेडीयू की जन विरोधी सरकार को हराना चाहते हैं.” उन्होंने कहा, “जल्द ही कांग्रेस को साथ लेते हुए 24 घन्टे में हम जनता के सामने विकल्प रख देंगे.”

कांग्रेस ने राज्य नेताओं को दिल्ली बुलाया 
विधानसभा चुनाव में सीट बँटवारे को  लेकर चल रही खींचतान के बीच कांग्रेस ने अपने राज्य नेताओं को दिल्ली बुलाया है. बिहार की AICC स्क्रीनिंग कमेटी भी कल दोपहर 3 बजे बैठक करेगी.