corona

    नयी दिल्ली. देश (India) में फ़िलहाल कोरोना (Corona) की दूसरी लहर हावी होते दिख रही है । वहीं  बीते शनिवार को  देश में कोरोना के  2.61 लाख नए मामले सामने आए। देखा जाए तो यह अब लगातार तीसरा दिन है जब देश में एक दिन में कोरोना महामारी के दो लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं। इसके साथ ही अब दिल्ली सहित अन्य 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ऑक्सीजन सिलेंडर, कोरोना वैक्सीन और रेमडेसिविर की मांग भी अब और बढ़ गई है। इसके साथ ही दिल्ली के CM अरविन्द केजेरिवाल ने कोरोना महामारी की स्थिति को ‘खतरनाक’  करार दिया।

    क्या है देश की कोरोना स्थिति: 

    भारत में फिलहाल कोरोना रोगियों की संख्या 1.47 करोड़ और मृतकों की संख्या 1. 77 लाख के करीब पहुंच चुकी है। वहीं, बीते शनिवार राज्यों द्वारा हाल ही में बढ़े कोरोना मामलों के रोकथाम और प्रबंधन के लिए उठाए गए कदमों की समीक्षा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बैठक की थी।

    क्या हुआ था PM मोदी की समीक्षा बैठक में:

    प्रधानमंत्री की अध्यक्ष्ता में आयोजित इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्रालय, गृह मंत्रालय, रेलवे, रसायन सहित कई मंत्रालय के अधिकारी शामिल हुए। इस बैठक में PM नरेन्द्र मोदी ने दवाओं, ऑक्सीजन, वेंटिलेटर और टीकाकरण (Vaccination) से संबंधित पहलुओं पर चर्चा की। इसके साथ ही PMमोदी ने  ने यह भी निर्देश दिया कि अस्थायी अस्पतालों और अलगाव केंद्रों के माध्यम से बेड की अतिरिक्त आपूर्ति सुनिश्चित की जाए।

    उन्होंने  विभिन्न दवाओं की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए भारत के दवा उद्योग की पूरी क्षमता का उपयोग करने की आवश्यकता के बारे में भी बात की। उनका कहना था कि, “जैसा कि हमने पिछले साल किया था, हम COVID को और भी अधिक गति और समन्वय के साथ सफलतापूर्वक लड़ेंगे।”