कोरोना वायरस : सरकार द्वारा जांच की कीमत तय, जाने कितनी है

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस की जांच के लिए कीमत तय की है। यह कीमत प्रायवेट लैब के लिए है। अब कोरोना की जांच साढ़े चार हजार रूपये में घर बैठे कराई जाएगी। इसमें तीन हजार जांच और डेढ़ हजार

नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस की जांच के लिए कीमत तय की है। यह कीमत प्रायवेट लैब के लिए है। अब कोरोना की जांच साढ़े चार हजार रूपये में घर बैठे कराई जाएगी। इसमें तीन हजार जांच और डेढ़ हजार रूपये स्क्रीनिंग के शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि, कोरोना वायरस की जांच सभीने करना चाहिए ऐसा जरुरी नहीं हैं। जो व्यक्ति हाल ही में विदेश यात्रा से लौटकर आये है या विदेश से आने वाले व्यक्ति के संपर्क में आये ऐसे लोग जांच कराये।

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार पूरी तरह से कोशिश कर रही हैं। इसलिए कोरोना की जांच के लिए केंद्र ने प्रायवेट लैब के शुल्क तय किये हैं। शनिवार को जारी किये आदेश में कहा है कि जिन प्रायवेट लैब के पास एनएबीएच सर्टीफिकेट होगा, उन्ही को कोरोना वायरस की जांच करने की अनुमति मिल सकती हैं। इसमें सदिग्ध मरीज अपने घर बैठे सैंपल दे सकेंगे।     

अगर किसी संदिग्ध मरीज का सैंपल पॉजिटिव पाया जाता है तो अंतिम जांच के लिए वह सैंपल पुणे के आईसीएमआर की लैब में भेजना आवश्यक हैं। जिसके बाद उस व्यक्ति को कोरोना है या नही इसकी पुष्टि की जाएगी। भविष्य को ध्यान में रखते हुए सरकार ने प्रायवेट लैब को कुछ हिदायतें भी दी हैं। इस लैबों को हर सैंपल की रिपोर्ट व जानकारी सरकार बतानी होगी। निगेटिव पाए गए सैंपल को एक हफ्ते के अंदर नष्ट करना होगा।