Another case of corona virus came out in Meghalaya

नई दिल्ली. चीन, इटली, ईरान समेत कई देशों में कोरोना वायरस ने कहर ढाने के बाद अब भारत में कोरोना वायरस से पहली मौत की पुष्टि हो गई है। मृतक का नाम मोहम्मद हुसैन सिद्दीकी(76) है। इसकी मौत कर्नाटक के

नई दिल्ली. चीन, इटली, ईरान समेत कई देशों में कोरोना वायरस ने कहर ढाने के बाद अब भारत में कोरोना वायरस से पहली मौत की पुष्टि हो गई है। मृतक का नाम मोहम्मद हुसैन सिद्दीकी(76) है। इसकी मौत कर्नाटक के कलबुर्गी शहर में इलाज के दौरान हुई है। बतादें कि देश में कोरोना संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 74 हो गई है।

जानकारी के अनुसार मृतक 29 फरवरी को सऊदी अरब से भारत लौटा था। मृतक अस्थमा का मरीज भी था। 6 मार्च को उसे सर्दी और जुकाम हुआ जिसे उसने डॉक्टर को दिखया था। उसके बाद 9 मार्च को उसकी तबियत ज्यादा खराब हुई जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती किया गया। जहां मंगलवार को उसकी उपचार के दौरान मौत ही गई। उसके नमूनों की जांच में पाया गया की उसे कोरोना वायरस ने अपनी चपेट में लिया था।

मिडिया खबरों के मुताबिक पांच मार्च को मृतक को जिले के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया था। उसे यहां अस्थमा और हाइपर टेंशन के लिए भर्ती किया गया था। इस अस्पताल में मृतक की कोरोना वायरस की जांच की गई थी। लेकिन तीन दिन के बाद मृतक को हैदराबाद के अस्पताल में शिफ्ट किया गया था। लेकिन उसी दिन मृतक के परिवार वाले उसे वहां से ले गए, जहां उसकी रात 10:30 बजे के करीब मौत हो गई।

बुधवार को जिला स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ने बताया था कि,एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई जिसके कोरोना वायरस से संक्रमित होने का संदेह था।
कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए दिल्ली में स्कूल, कॉलेज और सिनेमा घर 31 मार्च तक बंद रहेंगे। जहां परीक्षायाएं शुरू है वहां स्कूल और कॉलेज खुले रहेंगे।

भारत में कोरोना वायरस के 74 मामले
भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की सांख्य 74 हो गई है। इसमें 14 मामले महाराष्ट्र से है। इसके अलावा दिल्ली में 6, उत्तर प्रदेश 11, राजस्थान और लद्दाख में 3-3, हरियाणा 14, कर्नाटक 4, केरल 17, तमिलनाडु, तेलंगाना, पंजाब और जम्मू में 1-1 मामला है। 

विश्व भर में कोरोना वायरसके इतने मामले
इस जानलेवा कोरोना वायरस से अबतक 4,968 लोगों की मौत हो गई है। वही 1,34,242 लोग इस वायरस से संक्रमित है। इसके अलावा 68,898 इससे ठीक हुए है। इसमें सबसे ज्यादा 3,162 मौत चीन में हुई है। इसके बाद इटली में 1,016 लोगों की मौत हुई है।