pslv
Pic-ISRO

    बेंगलुरु. एक बड़ी खबर के अनुसार साल 2021 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने अपने पहले मिशन में कामयाबी हासिल की है। आज सुबह आंध्र प्रदेश में श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से पीएसएलवी-सी51 (PSLV-C51 / Amazonia-1) को लॉन्च कर दिया गया है। आज PSLV-C51 अमेजोनिया-1 और दूसरे 18 सैटेलाइट को लेकर भी अंतरिक्ष में गया है। इसरो द्वारा जारी एक बयान में बताया कि PSLV-C51, PSLV का 53वां मिशन है। वहीं इस रॉकेट के जरिए ब्राजील के अमेजोनिया-1 उपग्रह के साथ 18 अन्य उपग्रह भी आज अंतरिक्ष में भेजे गए हैं।

    दरअसल पीएसएलवी- सी51/अमेजोनिया-1 (PSLV-C51 / Amazonia-1) मिशन को आंध्र प्रदेश (AndhraPradesh) में श्रीहरिकोटा (Shrihari kota) के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से प्रक्षेपित करने की उल्टी गिनती बीते शनिवार से शुरू हो गई थी  जिसके तहत आज यानी 28 फरवरी सुबह 10 बजकर 24 मिनट को यह प्रक्षेपित कर दिया गया , जो मौसम की स्थिति पर निर्भर करेगा। वहीं भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने बीते शनिवार  बयान में बताया कि पीएसएलवी-सी51 पीएसएलवी का 53वां मिशन है। इस रॉकेट के जरिए ब्राजील के अमेजोनिया-1 उपग्रह के साथ 18 अन्य उपग्रह भी अंतरिक्ष में भेजे हैं ।

    इस रॉकेट को चेन्नई से करीब 100 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपित किया  गया है । इस रॉकेट को प्रक्षेपित करने का समय आज 28 फरवरी सुबह 10 बजकर 24 मिनट था  जो मौसम की स्थिति पर भी निर्भर था। उल्टी गिनती सुबह आठ बजकर 54 मिनट पर शुरू हो गई थी। पीएसएलवी (पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल) सी51/अमेजोनिया-1 इसरो की वाणिज्य इकाई न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) का पहला समर्पित वाणिज्यिक मिशन है।

    PM नरेन्द्र मोदी की तस्वीर भी:

    दरअसल आत्मनिर्भर भारत के लिए आज बड़ा ही ऐतिहासिक दिन है। अब अतंरिक्ष में भी जय हिंद गूंजेगा। इसरो का पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल इस बार अपने साथ सैटेलाइट के अलावा भगवद गीता की एक इलेक्ट्रॉनिक कॉपी लेकर भी उड़ान भरी  है। इसी के साथ एक नैनो सैटेलाइट पर PM नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की तस्वीर भी है । आज सुबह 10 बजकर 24 मिनट पर श्रीहरिकोटा से PSLV-C51/Amazonia-1 की लॉन्चिंग हुई । यह भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) का 2021 में पहला प्रक्षेपण है। 

    डिजिटल गीता और 25 हजार भारतीयों के नाम के साथ प्रक्षेपण:

    गौरतलब है कि SKI SD (सुरक्षित डिजिटल) कार्ड में डिजिटल भगवद गीता भी भेज रहा है साथ ही यह सैटेलाइट 25 हजार भारतीय लोगों के नाम लेकर अंतरिक्ष में जा रहा है। इसरो की वाणिज्य इकाई न्यूस्पेस इंडिया लिमिटिड (NSIL) के लिए भी आज यह खास दिन है। बता दें कि इसरो का मुख्यालय बेंगलुरु में है। विदित हो कि PSLV (पोलर सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल) सी51/अमेजोनिया-1 एनएसआईएल का पहला समर्पित वाणिज्यिक मिशन है जिसक प्रक्षेपण अमेरिका के सिएटल की उपग्रह राइडशेयर एवं मिशन प्रबंधन प्रदाता स्पेसप्लाइट इंक के वाणिज्य प्रबंधन के तहत हो रहा है। 

    अमेजोनिया-1 के बारे में बयान में बताया गया है कि यह उपग्रह अमेज़न क्षेत्र में वनों की कटाई की निगरानी और ब्राजील के क्षेत्र में विविध कृषि के विश्लेषण के लिए उपयोगकर्ताओं को दूरस्थ संवेदी आंकड़े मुहैया कराएगा तथा मौजूदा ढांचे को और मजबूत बनाएगा।