PM Modi
File Pic : ANI

    नई दिल्ली: देश में कोरोना संकट (Coronavirus Outbreaks) के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने आज 26 राज्यों के 111 ट्रेंनिंग केंद्रों से कोविड-19 हेल्थकेयर फ्रंटलाइन वर्कर्स (COVID-19 Frontline Workers) के लिए विशेष रूप से तैयार क्रैश कोर्स प्रोग्राम का उद्घाटन किया। उन्होंने इस दौरान यह भी कहा कि 1 लाख  कोविड योद्धा तैयार करने का टारगेट रखा गया है।

    पीएम मोदी ने कहा कि ये वायरस हमारे बीच अभी भी है और इसके मयूटेट होने की संभावना भी बनी हुई है। इसलिए हर इलाज और सावधानी के साथ आने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए हमें देश की तैयारियों को बढ़ाना होगा। इसी लक्ष्य के साथ देश में एक लाख फ्रंटलाइन कोरोना वॉरियर तैयार करने का महाअभियान शुरू हो रहा है।

    ANI का ट्वीट-

    मोदी ने कहा कि कोरोना से लड़ रही वर्तमान फोर्स को सपोर्ट करने के लिए देश में करीब 1 लाख युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है। ये कोर्स 2-3 महीने में ही पूरा हो जाएगा, इसलिए ये लोग तुरंत काम के लिए उपलब्ध भी हो जाएंगे। 

    उन्होंने कहा कि इस अभियान से कोविड से लड़ रही हमारी हेल्थ सेक्टर की फ्रंटलाइन फोर्स को नई ऊर्जा भी मिलेगी और हमारे युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर भी बनेंगे।