Corona Death
File Photo

    रायपुर. जहाँ पुर भारत (India) आज कोरोना (Corona) कि दूसरी लहर से लड़ रहा है। वहीं अब छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर (Raipur) के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल भीमराव अंबेडकर का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ है। वीडियो अस्पताल के उस हिस्से का है, जहां कोविड-19 के संक्रमित मृतकों के शव रखे जा रहे हैं। 

    अब वीडियो को देखें तो आप पाएंगे कि शव को रखने के लिए फ्रीजर में जगह नहीं है, ऐसे में कुछ तो आसमान के नीचे धूप में स्ट्रचर पर तो कई शव अंदर जमीन पर ही पड़ा हुआ  हैं।एक हिस्से में तो ऐसा भी दिख रहा है मानो किसी तरह का सामान किसी ने स्टाक किया हो। कहा जा रहा है कि शव को परिजनों को सौंपने या फिर अंतिम संस्कार के लिए भेजने की प्रक्रिया में देर हो रही है जिसकी वजह से यह पूरा शवगृह भर गया है।

    Courtsey: Vikash (@VickyKedia) ( सावधान: विडियो की तस्वीरें थोड़ी विचलित करनेवाली हैं )

    इधर अस्‍पताल के अधिकारियों ने स्थिति को लेकर अपनी बेबसी का इजहार करते हुए कहा कि कोरोना  के कारण जिन मरीजों की मौत हो रही है, उन्‍हें शवगृह में ही जमा कराया जा रहा है, अंतिम संस्‍कार के पहले ही अब इनकी संख्‍या बढ़ती जा रही है।इतना हिनहि अब अस्‍पताल में स्थिति यह है कि इंटेसिव केयर यूनिट (ICU) और ऑक्‍सीजन से सज्जित बेड पिछले सप्‍ताह से भरे पड़े हैं और अब यहाँ कोई भी बेड खाली नहीं है।    

    इस पुरे मुद्दे पर रायपुर की चीफ मेडिकल एंड हेल्‍थ ऑफिसर मीरा बघेल का कहना था कि, “कोई भी यह अंदाज नहीं लगा सकता कि एक साथ इतनी संख्‍या में मौतें होंगी। हमारे पास सामान्‍य स्थिति के लिहाज से पर्याप्‍त संख्‍या में फ्रीजर हैं लेकिन हम यदि 10 से 20 के लिए तैयारी कर रहे हैं तो यहाँ 50 से 60 लोगों की मौत हो रही है और उनकी लाशें आ रहीं हैं। एक साथ इतने अधिक लोगों की मौत की स्थिति में आखिर हम कैसे इतने सारे फ्रीजर की व्‍यवस्‍था कैसे कर सकते हैं?” 

    अगर आधिकारिक सूत्रों कि मानें तो  रायपुर शहर में फिलहाल औसतन रोजाना 55 शवों का अंतिम संस्‍कार किया जा रहा है और इसमें से ज्‍यादातर कोरोना के ही मृत मरीज हैं।