कांग्रेस नेता ने स्मृति ईरानी को कहे अपशब्द, केंद्रीय मंत्री ने दिया जवाब – राहुल जी इनको कुछ नया सिखाओ

    नई दिल्ली: कोरोना टूलकिट खुलासे के बाद देश की राजनीति फिर गरमा गई है। भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच जुबानी जंग शुरू है। इसी बीच कांग्रेस के नेशनल मीडिया कोऑर्डिनेटर विनय कुमार ढोकनिया ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को अपशब्द कहा। जिस पर जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा, “राहुल जी इनको कुछ नया सिखवाओ।”

    दरअसल, भारतीय जनता पार्टी ने प्रवक्ता संबित पात्रा ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर कोरोना महामारी को लेकर भारत और प्रधानमंत्री मोदी को बदनाम करने का आरोप लगाया था। भाजपा ने इस दौरान एक टूलकिट भी साझा किया। इस दस्तावेज को केंद्रीय मंत्रियों और कई भाजपा नेताओं इसको ट्वीट किया। जिनमें स्मृति ईरानी भी थी। 

    इसी ट्वीट को रीट्वीट करते हुए कांग्रेस नेता ढोकनिया ने अपशब्द कहे। कांग्रेस नेता ने ट्वीट में लिखा, “स्मृति ईरानी आंटी तुम सिर्फ अनपढ़ नहीं हो, तुम गूंगे और मूर्ख हो। झूठ फैलाने के लिए आप पर शर्म आती है। कर्म आपको और आपकी पार्टी को जल्द ही अच्छी तरह से पकड़ लेगा।”

    केंद्रीय मंत्री ने दिया जबरदस्त जवाब 

    कांग्रेस नेता के अपशब्द को लेकर ईरानी ने कड़ा प्रहार किया। राहुल गांधी को टैग करते हुए लिखा, “राहुल गांधी ध्यान दीजिए।.. आपको वास्तव में मुझ पर नए और गुणवत्तापूर्ण अपमान करने के लिए किसी को तैयार करने की आवश्यकता है .. यह गूंगा, बेवकूफ, अनपढ़ चाची सामान पुराना हो गया है।

    मामला पुलिस स्टेशन तक पहुंचा

    भाजपा के लगाए आरोप पर कांग्रेस पुलिस स्टेशन तक पहुंच गई है।  कांग्रेस ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर और तुगलक रोड एसएचओ को भाजपा नेताओं के खिलाफ एफआईआर लिखने के लिए पत्र लिखा है। पत्र में कांग्रेस ने भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, प्रवक्ता संबित पात्रा, संगठन महासचिव बीएल संतोष सहित कई नेताओं के खिलाफ झूठी ख़बर फ़ैलाने के लिए मामला दर्ज करने की मांग की है। 

    पात्रा ने क्या लगाए आरोप? 

    पात्रा ने दावा किया कि कांग्रेस ने महामारी के समय ऐसे ही ‘‘टूलकिट” के जरिए सरकार के घेरने के लिए विभिन्न माध्यमों से देश में भ्रम की स्थिति पैदा कर राजनीतिक लाभ लेने की कोशिश की। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘राहुल गांधी (पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष) ने महामारी को प्रधानमंत्री मोदी की छवि धूमिल करने के मौके के रूप में इस्तेमाल किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं को कोरोना के नये स्ट्रेन को मोदी स्ट्रेन का नाम देने का निर्देश दिया। विदेश पत्रकारों की मदद से भारत को बदनाम करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी गई।”

    पात्रा ने कहा कि कोरोना का जो नया स्ट्रेन आया है और उसे विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी भारतीय स्ट्रेन कहने से मना कर दिया है लेकिन कांग्रेस इसे ‘‘इंडियन स्ट्रेन” और उससे भी आगे बढ़कर ‘‘मोदी स्ट्रेन” के नाम से प्रसारित करने में लगी है। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘यह बहुत ही दुखद है। कहीं न कहीं देश को पूरे विश्व में अपमानित और बदनाम करने के लिए एक वायरस को भारत के नाम, प्रधानमंत्री के नाम पर प्रतिपादित करने की चेष्टा है। मुझे लगता है यह कांग्रेस पार्टी के असली चेहरे को दर्शाता है।”