CHAR-DHAM

    देहरादून. अभी आ रही एक बड़ी खबर के अनुसार उत्तराखंड सरकार ने चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी के लोगों के लिए चारधाम यात्रा (Char Dham Yatra) खोलने के अपने आदेश को पुनः स्थगित कर दिया है। आज इस बाबत तीरथ सिंह रावत सरकार के कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि, फिलहाल ‘चारधाम यात्रा को लेकर नैनीताल हाईकोर्ट (Nainital High Court) में सुनवाई चल रही है। अब आगामी 16 जून के बाद ही राज्य सरकार यात्रा खोलने पर फिर से विचार करेगी।”

    गौरतलब है कि इससे पहले राज्य सरकार द्वारा ही चारधाम यात्रा को जिलास्तर पर अनुमति दी गई थी, लेकिन इसके लिए RT-PCR की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी थी। इसमें सरकार ने जिन जिलों को यात्रा की अनुमति दी थी उनमें चमोली जिले के यात्री बद्रीनाथ धाम के दर्शन, रुद्रप्रयाग जिले की केदारनाथ धाम के दर्शन और उत्तरकाशी जिले के यात्री गंगोत्री यमुनोत्री धाम के दर्शन करने का नियम बनाया था। लेकिन अब तीरथसरकार ने अपना यह आदेश स्थगित कर दिया है। फिलहाल केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री में ​केवल पुजारियों को ही पूजा अर्चना संबंधी गतिविधियां कर पाने की जरुरी अनुमति है।

    क्या है उत्तराखंड में कोरोना का हाल :

    बता दें कि कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने 15 से 22 जून तक कुछ छूट के साथ कोरोना कर्फ्यू को आगे बढ़ाने का ऐलान किया है। अब सरकार द्वारा दी गई छूट के तहत राजस्व कोर्ट में 20 केस तक की सुनवाई हो सकेगी। इसके साथ ही, शादी और अंत्येष्टि में 50 लोगों की संख्या को अनुमति दी गई है। वहीं विक्रम ऑटो को चलाने की अनुमति दी गई है। 16, 18 और 21 जून को परचून, जनरल मर्चेंट की दुकानों के साथ ही शराब समेत अन्य व्यापारिक प्रतिष्ठान भी वापस खोले जाएंगे। इन दुकानों को खोलने का समय अब सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक रखा गया है। इसके अलावा, फल, सब्जी डेयरी और मिठाई की दुकानें रोज खुल सकेंगी। इन दुकानों की टाइमिंग भी सुबह आठ बजे से लेकर शाम पांच बजे तक ही रखी गयी है। इसके अतिरिक्त 16 और 21 जून को स्टेशनरी और किताबों की दुकानें भी खुली रखने की अनुमति है।