गर्भवती महिलाओं को टीका लगाने पर बोले डॉ. पॉल- सभी के लिए सुरक्षित

    नई दिल्ली: नीति आयोग में स्वास्थ्य सदस्य डॉ. वीके पॉल ने शुक्रवार को कहा, “मंत्रालय की ओर से गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण को लेकर दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं। तीन टीकों का उपयोग करने के हकदार हैं। गर्भवती महिलाओं को टीका लगवाना चाहिए, यह बेहद जरूरी।” 

    उन्होंने आगे कहा, “गर्भवती महिलाओं में कोविड की गंभीरता बढ़ जाती है इसलिए जरूरी है कि हम गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन लगवाएं। अगर गर्भवती महिलाओं को कोरोना होता है तो समय से पहले डिलीवरी होने की संभावना बढ़ जाती है।”

    सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क प्रोटोकॉल का पालन नहीं

    बाजारों में लग रही भीड़ पर पॉल ने कहा, “हम अपने गार्ड को कम नहीं कर सकते। पर्यटन स्थलों पर एक नया जोखिम देखने को मिल रहा है जहां भीड़ का जमावड़ा देखा जा रहा है, सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया जा रहा है। यह गंभीर चिंता का विषय है।”

    उन्होंने कहा, “बाज़ारों और पर्यटन स्थलों पर लापरवाही हो रही है। इसलिए वहां(पर्यटन स्थलों) एक नया खतरा दिखाई दे रहा है, वायरस के लिए एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक पहुंचना आसान हो रहा है।”

    हमें सावधान रहने की जरुरत 

    कोरोना के  लैम्ब्डा वैरियंट पर नीति आयोग सदस्य ने कह, “कोरोना वायरस का लैम्ब्डा संस्करण रुचि का एक प्रकार है। हमें ऐसे वेरिएंट से सावधान रहना चाहिए। अभी तक, इस बात का कोई सबूत नहीं है कि भारत में इस प्रकार की पहचान की गई है।”

    90 जिलों से 80 प्रतिशत मामले 

    स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, “हमारे देश में 90 ज़िले ऐसे हैं जहां देश में कोरोना वायरस के 80% मामले आ रहे हैं। देश में कोरोना वायरस के 53% मामले दो राज्यों महाराष्ट्र और केरल में आ रहे हैं।” उन्होंने कहा, “अभी भी देश में 66 ज़िले ऐसे हैं, जहां 8 जुलाई को पॉजिटिविटी रेट 10% से ज़्यादा था।”

    मंत्रालय ने आगे कहा, “देश में रोजाना नए मामलों में गिरावट का सिलसिला जारी है। पिछले एक हफ्ते में रोजाना औसतन नए मामलों में 8% की गिरावट आई है।देश में रिकवरी में इजाफा हुआ है। रिकवरी रेट आज 97.2% है।”

    उन्होंने कहा, “हमें सभी सावधानियां बरतते रहने की जरूरत है। यूनाइटेड किंगडम में, रूस और बांग्लादेश ने COVID19 मामलों का पुनरुत्थान देखा है। हम अभी भी COVID19 की दूसरी लहर से निपट रहे हैं। हमें COVID19 के उचित व्यवहार का प्रदर्शन जारी रखने की आवश्यकता है”