Congress welcomed the decision to ban the Chinese app, and demanded effective action

नयी दिल्ली.  प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) का एक दल संदेसरा बंधुओं संबंधी धनशोधन मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल का बयान दर्ज करने के लिए शनिवार को उनके दिल्ली स्थित आवास पहुंचा। अधिकारियों ने बताया कि तीन सदस्यीय दल मध्य दिल्ली के 23, मदर टेरेसा क्रीसेंट स्थित पटेल के आवास पहुंचा। दल धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत उनका बयान दर्ज करेगा।

ईडी ने पटेल को इस मामले में पूछताछ के लिए दो बार तलब किया था, लेकिन गुजरात से राज्यसभा के सदस्य पटेल ने वरिष्ठ नागरिकों को घर में ही रहने की सलाह देने वाले कोविड-19 वैश्विक महामारी के दिशा-निर्देशों का हवाला दिया। एजेंसी ने उनके अनुरोध पर सहमति जताई और उन्हें सूचित किया कि वह उनसे पूछताछ के लिए एक जांच अधिकारी को भेजेगी। यह मामला गुजरात स्थित स्टर्लिंग बायोटेक द्वारा करोड़ों रुपए की कथित बैंक धोखाधड़ी एवं धनशोधन को लेकर संदेसरा बंधुओं – चेतन और नितिन – और कई अन्य के खिलाफ जांच के जुड़ा है।