File Photo
File Photo

    रमजान (Ramadan) का पाक महीना खत्म होने वाला है। हर साल रमजान के बाद शव्वाल की पहली तारीख को ईद-उल-फितर मनाई जाती है। इस ईद को ईद-उल-फितर ( Eid to Eid-ul-Fitr) के नाम से भी जाना जाता है। रमजान के चांद दिखने के बाद दूसरे दिन ईद (Eid) मनाई जाती है। इस साल रमजान 12 मई, बुधवार को चांद के दीदार के बाद अगले दिन 13 मई, गुरुवार को ईद-उल-फितर का त्योहार मनाया जाएगा। रमजान का यह त्यौहार  शांति और भाईचारे त्यौहार है। ईद उल फितर के दिन लोग सुबह नए कपड़े पहनकर नमाज अदा करते हुए अमन और चैन की दुआ मांगते हैं।

    ईद-उल-फितर में मीठे पकवान खासतौर पर सेवइयां बनती हैं।  लोग आपस में गले मिलकर अपने गिले-शिकवों को दूर करते हैं। यह रमजान ईद भारत के केरल राज्य में ईद एक दिन पहले मनाई जाती है। इस राज्य में चांद एक दिन पहले दिखाई देता है। केरल में रहने वाले लगभग एक तिहाई मुस्लिम भारत के बाकी राज्यों की तुलना में एक दिन पहले ईद मनाते हैं।

    जानें किन शहरों में कब दिखेगा चांद

    – मुंबईः 7.05 PM 

    – अहमदाबादः 7.12 PM

    – आगराः 6.57 PM

    -दिल्लीः 7.02 PM

    – औरंगाबादः 6.56 PM

    – भोपालः 6.53 PM

    – लखनऊः 6:45 PM

     – पटनाः 6.27 PM  

    – हैदराबादः 6.40 PMबेंगलुरूः 6.37 PM

    ईद मनाने की तारीख चांद दिखने के हिसाब से ही तय होती है। जिस दिन चांद दिखता है उस दिन लोग एक दूसरे को चांद मुबारक कहकर बधाई देते हैं।