Election Commission

नयी दिल्ली. चुनाव आयोग (Election Commission) ने अगले साल अप्रैल-मई में पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों (VidhanSabha Elections) की तैयारियां शुरू कर दी हैं। आयोग के दो वरिष्ठ अधिकारी अगले कुछ दिन में पश्चिम बंगाल (West Bengal) और तमिलनाडु (Tamil Nadu) जाने के लिये तैयार हैं। सूत्रों ने बुधवार को बताया कि चुनाव आयोग के महासचिव उमेश सिन्हा अगले सप्ताह तमिलनाडु जाएंगे।

वहीं उप चुनाव आयुक्त सुदीप जैन अगले कुछ दिन में पश्चिम बंगाल जाएंगे। पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, असम, केरल और पुडुचेरी की विधानसभाओं का कार्यकाल अगले साल अप्रैल से जून के बीच खत्म होने जा रहा है। अधिकतर राज्यों में जबरदस्त राजनीतिक मुकाबला देखने की उम्मीद की जा रही है। पश्चिम बंगाल में राजनीतिक पारा चढ़ा हुआ है और यहां भाजपा, तृणमूल कांग्रेस के 10 साल के शासन को खत्म करने पर दांव लगा रही है।

2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने 42 संसदीय क्षेत्रों में से 18 पर जीत दर्ज की थी और वह पिछले कुछ वर्षों में यहां तृणमूल कांग्रेस की मुख्य प्रतिद्वंद्वी बनकर उभरी है। वहीं असम में सत्तारूढ़ भाजपा का सीधे तौर पर मुकाबला कांग्रेस के साथ है जबकि तमिलनाडु की राजनीति सुपरस्टार रजनीकांत की घोषणा के बाद काफी दिलचस्प हो गई है। राज्य में पारंपरिक तौर पर मुकाबला द्रमुक और अन्नाद्रमुक के बीच रहा है लेकिन रजनीकांत ने घोषणा की है कि वह चुनाव लड़ने के लिए पार्टी का गठन करेंगे। केरल में मुकाबला माकपा नीत सत्तारूढ़ एलडीएफ और कांग्रेस नीत यूडीएफ के बीच है।