SHAH-AMRINDER

नयी दिल्ली: एक तरफ दिल्ली में मोदी सरकार (Narendra Modi) द्वारा लाये गए कृषि कानून (Agricultural Law) के मसले पर किसानों का विरोध लगातार बढ़ता जा रहा है।  वहीँ आज दोपहर 12 बजे सरकार और कृषि कानून वापस लेने की मांग पर अड़े किसानों के बीच फिर बात होनी है।  वहीं खबर यह भी है कि आज पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह (Amrinder Singh) और गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) की मुलाकात भी पक्की हुई है। शायद इन दोनों के बीच आज किसान आंदोलन पर भी  चर्चा हो सकती है।  

गौरतलब है कि आंदोलनकारी किसानों में बड़ा हिस्सा पंजाब से है, ऐसे में यह उम्मीद भी जताई जा रही है कि गृह मंत्री अमित शाहऔर पंजाब CM कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच चर्चा से आंदोलन का कोई हल निकल सकता है।  इधर किसानों के प्रदर्शन के कारण सिंधु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर, चिल्ला बॉर्डर समेत कई बॉर्डर को बंद कर दिया गया है।  दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की ओर से एडवाइजरी जारी की गई है।  इसके मुताबिक, गुरुवार को भी नोएडा लिंक रोड पर स्थित चिल्ला बॉर्डर को बंद रखा गया है।  यहां पर गौतम बुद्ध द्वार पर सैकड़ों किसान सड़क जाम करके बैठे हैं। 

क्या ख़ास होने वाला है आज: 

किसान आंदोलन के लिए आज का दिन बड़ा ही महत्वपूर्ण होने वाला है, जिनपर हर किसी की नज़र है।  आइये देखें क्या क्या है आज ख़ास:

  • 09. 30 AM: अमित शाह और कैप्टन अमरिंदर की मुलाकात.
  • 10. 00 AM: भीम आर्मी के चंद्रशेखर सिंधु बॉर्डर पर पहुंचेंगे.
  • 12. 00 PM: किसानों और सरकार के बीच एक और बातचीत.

क्या है किसानों की मांग:

इधर किसानों की एक बड़ी मांग यह है कि MSP को फिर पक्का किया जाए और मंडी सिस्टम पर भी थोड़ी बात और साफ़ की जाए वरना इसे संसद का सत्र बुलाकर कानून ही वापस ले लिया जाए।  लेकिन सरकार भी यह साफ़ कर चुकी है कि जल्द ही वो किसानों के साथ समाधान निकाल लेंगे।  इन सबसे यह साफ़ हो रहा है कि सरकार भी अब कृषि कानून के मसले पर पीछे हटती नहीं दिख रही है।