rajnath
File Photo

नयी दिल्ली. भाजपा के वरिष्ठ नेता और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने मंगलवार को पंजाब (Punjab) और हरियाणा (Haryana) सहित अन्य राज्यों के किसानों (Farmers) के साथ अपने आवास पर बैठक कर नये कृषि कानूनों (New Agriculture Laws) के संबंध में चर्चा की। गौरतलब है कि केन्द्र के नये कृषि कानूनों का खास तौर से पंजाब और हरियाणा के किसान भारी विरोध कर रहे हैं।

किसानों के साथ केन्द्रीय मंत्री की यह बैठक कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों द्वारा कृषि कानून के खिलाफ किए जा रहे प्रदर्शनों की पृष्ठभूमि में हुई है। सिंह और केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के साथ किसानों की बैठक एक घंटे से ज्यादा चली जिसमें कृषि कानूनों सहित खेती संबंधी विभिन्न आयामों पर चर्चा हुई।

बैठक के बाद दोनों मंत्रियों और किसानों ने नये कृषि कानूनों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा-नीत केन्द्र सरकार की प्रशंसा की। इन किसानों में से कई पद्मश्री से सम्मानित हैं।

उन्होंने कहा कि इन कानूनों के माध्यम से किसानों के समक्ष अपना उत्पाद बेचने के कई विकल्प उपलब्ध होंगे और इससे कृषि क्षेत्र में आवश्यक सुधार भी होगा।

हरियाणा से आये किसान कंवल सिंह चौहान ने दावा किया कि इन कानूनों के संबंध में लोगों को भ्रमित करने का प्रयास किया जा रहा है। चौहान ने कहा, “किसान और उनके संगठन कृषि क्षेत्र में सुधार की मांग कर रहे हैं और इन तीन कानूनों की मदद से मोदी (केन्द्र) सरकार ने आवश्यक सुधार किए हैं, हम उनका स्वागत करते हैं।” (एजेंसी)