अब क्रेडिट कार्ड बनवाना नहीं होगा आसान! बैंक सख्‍त कर रहे हैं नियम

    नई दिल्ली. अब बैंक (Bank) से क्रेडिट कार्ड (Credit card) बनवाना आसान नहीं होगा। क्रेडिट कार्ड बनाने को लेकर बैंक अपने नियम सख्त कर रहे हैं। अब कार्ड बनवाने से पहले क्रेडिट स्काेर भी देखा जाएगा। यदि सिबिल स्‍कोर (Cibil Score) खराब है ताे फिर भूल ही जाइए कि बैंक आपका क्रेडिट कार्ड बनाएगा। 

    क्रेडिट स्काेर काम होने पर नहीं बनेगा कार्ड

    दरअसल, बैंक पाेस्ट काेविड बैंक (Bank Post Covid Bank) अपने असुरक्षित कर्ज काे कम करने काे लेकर विचार कर रहे हैं। फैसले के तहत अब वे क्रेडिट कार्ड बनाने के लिए क्रेडिट स्काेर की रेटिंग बढ़ाएंगे। बता दें कि, अब तक 700 क्रेडिट स्काेर हाेने पर भी बैंक क्रेडिट कार्ड जारी कर देते थे। वहीं, अब यह स्काेर 780 होने पर ही आपको क्रेडिट कार्ड की सु‍विधा मिल पाएगी। एक निजी बैंकर के अनुसार, क्रेडिट कार्ड जारी करने के नियमाें काे कड़ा किया गया है ताकि उन्हें ही ये सुविधा दी जा सके जिनका क्रेडिट स्काेर अच्छा हो। मतलब साफ है कि इससे क्रेडिट कार्ड का पेमेंट समय पर हाेगा, क्याेंकि अच्छे स्काेर का मतलब ही यही हाेता है कि सारे पेमेंट ऑन टाइम किए जा रहे है। 

    बैंक बढ़ा रहे हैं क्रेडिट स्‍कोर

    पिछले साल मार्च और दिसंबर के बीच क्रेडिट कार्ड का बकाया पूल 4.6 प्रतिशत बढ़ गया। वर्ष 2019 की समान अवधि में यह 17.5 प्रतिशत था। मार्च और अगस्त 2020 के दाैरान जब लाेन पेमेंट में छह महीने माेरेटाेरियम  दिया गया था, उस वक्त क्रेडिट कार्ड की आउटस्टेडिंग भी 0.14 प्रतिशत बढ़ी थी। काेविड-19 (Covid-19) के चलते एसबीआई क्रेडिट कार्ड का बैड लाेन 4.29 प्रतिशत तक पहुंच गया था। हालांकि, दिसंबर 2020 आते-आते इसे 1.61 फीसदी पर लाने में बैंक सफल रहे।