corona
File Photo

नई दिल्ली: फ़रवरी तक देश की कुल आबादी में से आधी आबादी कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित हो सकती है. सोमवार को रोग के प्रसार को धीमा करने में मदद करने के लिए केंद्र सरकार (Central Government) द्वारा बनाई समिति ने यह संभावना जताई है.

ज्ञात हो कि भारत में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 75 लाख को पार कर चुकी है. अमेरिका के बाद भारत कोरोना से संक्रमित मामलों पर दुनिया में दूसरे स्थान पर है. वहीं रायटर्स के मुताबिक भारत में सितंबर से संक्रमण कम हो रहा है. औसतन रोजाना  61,390 नए मामले सामने आरहे हैं.

वर्तमान में 30% आबादी संक्रमित

आईआईटी कानपूर के प्रोफ़ेसर और बनाई समिति के सदस्य मनिंद्र अग्रवाल ने कहा  ने कहा, “हमारे गणितीय मॉडल का अनुमान है कि वर्तमान में लगभग 30% आबादी संक्रमित है और यह फरवरी तक 50% तक जा सकती है.” 
 
वायरस के मौजूदा प्रसार के लिए बनाई समिति का अनुमान केंद्र सरकार के सीरोलॉजिकल सर्वेक्षणों की तुलना में बहुत अधिक है, जिसमें पता चला है कि सितंबर तक केवल 14 प्रतिशत आबादी संक्रमित थी. लेकिन अग्रवाल ने कहा कि, “सीरोलॉजिकल सर्वे शायद इस बात का नमूना से यह नहीं कह सकते कि जिस आबादी का वे सर्वे कर रहे थे, उसके आकार की वजह से सैंपल बिल्कुल सही नहीं है.”

नया मॉडल किया विकसित 

अग्रवाल ने कहा, “हमने एक नया मॉडल विकसित किया है जो स्पष्ट रूप से अप्रमाणित मामलों को ध्यान में रखता है, इसलिए हम संक्रमित लोगों को दो श्रेणियों में विभाजित कर सकते हैं – संक्रमण के रिपोर्ट किए गए मामले और जो रिपोर्ट नहीं किए.”
 

हर महीने आ सकते 26 लाख नए मामले 

समिति ने चेतावनी देते हुए कहा कि, “कोरोना वायरस से बचाव के लिए बनाएं नियम और उनके अनुमान को नजर अंदाज नहीं किया जा सकता है. लोगों ने अगर सामाजिक दूरी का पालन नहीं किया और मास्क नहीं पहना तो हर महीने 26 लाख नए मामले सामने आसकते हैं.”

विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि भारत में छुट्टियों के मौसम में संक्रमण बढ़ सकता है. इस महीने और क्रमशः नवंबर के मध्य में दुर्गा पूजा और दिवाली के त्योहारों के दौरान सावधानी नहीं राखी तो कोरोना का प्रसार बड़ी तेजी से हो सकता है.