Dushyant Chautala becomes senior vice president of JJP

चंडीगढ़, हरियाणा में पिछले कई दिनों से बिना मंत्रियों की सरकार चल रही है. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला पिछले कई दिनों से बिना मंत्रियों की सरकार चला रहे है.

चंडीगढ़, हरियाणा में पिछले कई दिनों से बिना मंत्रियों की सरकार चल रही है. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला पिछले कई दिनों से बिना मंत्रियों की सरकार चला रहे है. राज्य में लगातार मंत्रीमंडल विस्तार में मुश्किलें आ रही थी. हालांकि अब बीजेपी(भारतीय जनता पार्टी) और जजपा(जननायक जनता पार्टी) सरकार का मंत्रीमंडल विस्तार तय हो गया है. हरियाणा मंत्रीमंडल कल यानी बृहस्‍पतिवार 14 नवंबर को विस्तार होगा. नए मंत्रियों को कल राजभवन में दोपहर 12.30 बजे शपथ दिलाई जाएगी. वही, राजभवन में शपथ ग्रहण समरोह की पुती तैयारी हो गई है.

बता दे की, 21 अक्टूबर को महाराष्ट्र और हरियाणा इन दोनों जगहों पर विधानसभा चुनाव हुए थे. उसके बाद 24 अक्टूबर को जनता ने अपना फैसला सुना दिया था. लेकिन दोनों राज्यों में त्रिशुंक विधानसभा के कारण सरकार बनाने में मुश्किल हो रही है. महाराष्ट्र में बीजेपी, शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस और कांग्रेस के असमंजस के कारण सरकार बन नहीं पायी और अब राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू हो गया है. वही दूसरी तरफ हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने 27 अक्टूबर को दीपावली के दिन शपथ ग्रहण की थी. लेकिन उसके बाद विभागों को लेकर मनोहर लाल खट्टर और दुष्यंत चौटाला के में मतभेद शुरू हुए. 

इसीबीच मंत्रीमंडल विस्तार को लेकर कल यानी मंगलवार को मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के बीच बैठक हुई. इस बैठक में बीजेपी नौर जजपा के बीच मंत्रियों के नाम और विभागों को लेकर अंतिम फैसला लिया गया. बीजेपी वित्त और उद्योग विभाग अपने पास रखेगी, वही जजपा को कृषि, आबकारी एवं कराधान तथा टाउन एंड कंट्री प्लानिंग दिए जा सकते हैं. इसके बाद मुख्यमंत्री ने पार्टी हाईकमान को भी इसके बारे में सूचित कर दिया है. 

मुख्यमंत्री संग बैठक के बाद दुष्यंत चौटाला ने कहा, ‘मंत्रीमंडल विस्तार को लेकर चर्चा हुई है और अगले 48 घंटे में मंत्रीमंडल विस्तार होगा. मुख्यमंत्री के साथ विभागों के आवंटन को लेकर भी चर्चा हुई है. जजपा से कितने मंत्री बनेंगे, दो बनेंगे या ढाई ये हमारा अंदरूनी मामला है और कितने निर्दलीय मंत्री बनेंगे ये दोनों दल मिलकर तय करेंगे.’

मिली हुई जानकारी के अनुसार, हरियाणा मंत्रीमंडल में कुछ पूर्व मंत्रियों तो कई नए विधायकों को जगह मिल सकती है.मंत्रीमंडल में शामिल होने वाले जिन विधायकों के नाम आगे चल रहे हैं उनमें अनिल, कंवर पाल गुर्जर, सीमा त्रिखा, महिपाल ढांडा, घनश्याम सर्राफ और दीपक मंगला शामिल हैं. वहीं, जजपा से से राम कुमार गौतम, ईश्वर सिंह या अनूप धानक की संभावना बताई जा रही है. निर्दलीयों में रंजीत चौटाला और बलराज कुंडू को मंत्रीमंडल में स्थान मिलने की उम्मीद है.