Corona virus: Central team to visit Telangana, Gujarat and Maharashtra on 26-29 June
File Photo

    नई दिल्ली: कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर आयोजित प्रेस वार्ता में स्वास्थ्य सचिव लव अग्रवाल ने कहा, “4 मई के हफ़्ते में ऐसे 531 ज़िले  थे जहां रोज़ 100 से ज़्यादा नए मामले सामने आ रहे थे। अब ऐसे सिर्फ 73 ज़िले रह गए हैं। वहीं रिकवरी रेट बढ़कर  97.3 प्रतिशत  हो गया है। 

    उन्होंने कहा, “10 मई के समय देश में 37 लाख के करीब सक्रिय मामले थे, अब सक्रिय मामलों की संख्या लगभग 4,30,000 है। रिकवरी रेट 12 मई को 83% था जो अब 97.3% हो गया है। हम रोज़ाना लगभग 18 लाख टेस्ट कर रहे हैं।”

    मास्क नए सामान्य के रूप में शामिल 

    स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा, “जैसा कि हम गतिविधियों को फिर से शुरू करते हैं, विश्लेषण फेस मास्क के उपयोग में अनुमानित गिरावट को दर्शाता है। हमें अपने जीवन में फेस मास्क के उपयोग को एक नए सामान्य के रूप में शामिल करना चाहिए.”

    वैक्सीन के 95 प्रतिशत मौतों को रोका  

    नीति आयोग में सदस्य-स्वास्थ्य डॉ वीके पॉल ने कहा, “टीके की एक खुराक मृत्यु दर को 82% तक कम करने में सक्षम थी। दूसरी लहर के दौरान COVID-19 के कारण होने वाली 95% मौतों को रोकने में वैक्सीन की दो खुराक सफल रहीं.”

    नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ वीके पॉल ने कहा, ‘‘हमारे टीके प्रभावकारी हैं और बहुत सुरक्षित हैं तथा पहले से किसी अन्य बीमारी से ग्रसित लोगों, गर्भवती महिलाओं तथा स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अवश्य ही इसे लगवाना चाहिए। हालांकि, हम पूरी तरह से टीकों के भरोसे नहीं रह सकते हैं। ”     

    सरकार ने कहा कि 15 जुलाई को समाप्त हुए सप्ताह में 12 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 47 जिलों में कोविड-19 पॉजिटिविटी दर 10 प्रतिशत से अधिक दर्ज की गई। इनमें मणिपुर, केरल, राजस्थान, मेघालय, मिजोरम, अरूणाचल प्रदेश, नगालैंड, सिक्किम, त्रिपुरा, असम, महाराष्ट्र और पुडुचेरी शामिल हैं।