lahaul

मनाली. जहाँ एक तरफ भारत (India) में कोरोना (Corona) का प्रकोप फिर से उठा रहा है. वहीं हिमाचल (Himachal Pradesh) के लाहौल (Lahaul) का एक पूरा गाँव कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। इस खबर ने लाहौल प्रशासन की नींद उड़ा दी है। अब इस के चलते, पर्यटकों को रोहतांग सुरंग के उत्तरी भाग में जाने से भी रोका जा रहा है।

गौरतलब है कि लाहौल को ‘धरती के स्वर्ग’ के रूप में भी जाना जाता है और पर्यटन के लिए खूब प्रसिद्ध है।वहीं अब यहाँ कोरोना के दस्तक और महामारी ने प्रशसन को चौंका  के रख दिया है। लाहौल घाटी के थोरांग (Thorang) गांव के सिर्फ एक ग्रामीण को छोड़कर, अन्य सभी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अब पर्यटकों को लाहौल घाटी के किसी भी गांव में जाने की अनुमति नहीं है। वहीं रोहतांग टनल के गांवों को अब कन्टेनमेंट जोन में बदल दिया गया है।

यहाँ के अधिकारियों के मुताबिक, थोरांग गांव में केवल 42 ग्रामीण ही निवास करते हैं। लगभग सभी लोग सर्दियों की पृष्ठभूमि पर कुल्लू चले गए थे। यहाँ ग्रामीणों ने खुद का कोविड परीक्षण करने का फैसला किया। जांच में 42 कोरोना रिपोर्ट में से कुल 41 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव पायी गयी हैं।

बताया जा रहा है कि यह सभी ग्रामीण कुछ दिन पहले एक धार्मिक समारोह के लिए एकत्रित हुए थे। कहा जाता है कि इसी कार्यक्रम में कोरोना फैल गया। खबर है कि थोरंगा गाँव के आसपास के कुछ अन्य लोगों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है।

इस मुद्दे पर लाहौल के मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी डॉ पालजोर ने बताया की, “हमारी टीम ने लाहौल में सभी नागरिकों से कोविड परीक्षण करने की अपील की है.” उन्होंने आगे कहा कि, “जिले में अब तक 856 लोगों का कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।