अमित शाह का मनीष तिवारी पर हमला, कहा- वक्र दृष्टा लोग इसे भी वक्र दृष्टि से देख रहे

नई दिल्ली: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) पर सवाल उठाने वाले पर हमला बोला है। शनिवार को कर्नाटक (Karnataka) में आयोजित एक सभा में कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी (Manish Tiwari) का बिना नाम लिए कहा, “मुझे दुख है कि कुछ वक्र दृष्टा लोग इसे भी वक्र दृष्टि से देख रहे हैं। मैं इन सब से प्रार्थना करता हूं कि पूरे देश को विश्वास दिलाने की जरूरत है। पूरे देश को वैक्सीन के अभियान (Vaccine Program) से जोड़ने की जरूरत है। ऐसी कोई बात न करें जिससे दो विचार जनता के सामने आएं।”  

ज्ञात हो कि, देश भर में आज से टीकाकरण (Vaccination) की शुरुआत हो गई है। वहीं पंजाब (Punjab) के लुधियाना (Ludhiyana) से कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने भारत बायोटेक की कोवैक्सीन पर कई सवाल उठाए। पत्रकारों से बात करते हुए तिवारी ने कहा, “कई प्रतिष्ठित डॉक्टरों ने सरकार के साथ COVAXIN की प्रभावकारिता और सुरक्षा के संबंध में सवाल उठाए हैं और कहा है कि लोग यह नहीं चुन पाएंगे कि वे किस वैक्सीन को लेना चाहते हैं। यह सूचित सहमति के पूरे सिद्धांत के खिलाफ जाता है।”

उन्होंने आगे कहा, “यदि वैक्सीन इतना सुरक्षित, विश्वसनीय है और वैक्सीन की प्रभावकारिता प्रश्न से परे है तो फिर यह कैसे हो सकता है कि सरकार का एक भी मंत्री खुद पहले टीकाकरण के लिए आगे नहीं बढ़ा है क्योंकि यह दुनिया भर के अन्य देशों में हुआ है?।”

भारत ही विश्व का नेतृत्व करेगा 

अमित शाह ने कहा, “हम सब के लिए गर्व की बात है कि कोविड के जो 2 टीके आज लगने शुरू हुए हैं, ये दोनों ही भारत में बने हैं और 3-4 वैक्सीन भारत में लगभग तैयार हैं उन्होंने कहा, “पूरी दुनिया में कोरोना के खिलाफ लड़ने के लिए वैक्सीनेशन की जो प्रक्रिया चलने वाली है उसमें मोदी जी के नेतृत्व में भारत ही विश्व का नेतृत्व करे, इस प्रकार की स्थिति अगले 2-3 महीनों में हमें देखने को मिलेगी

कुछ लोग फैला रहे अफवाह 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, “एक छोटा सा वर्ग है जो समाज में लोगों को गुमराह करने के लिए टीकों, उनकी उपयोगिता, उनकी सुरक्षा के बारे में अफवाह फैला रहा है। लेकिन इतनी बड़ी संख्या में लोगों ने आज बड़े हर्ष और उत्साह के साथ टीका लगवाया, प्रख्यात डॉक्टरों ने सबसे पहले वैक्सीन लगवाई है।”