Yeddyurappa

बेंगलुरु. कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने बृहस्पतिवार को लोगों से आग्रह किया कि यदि वे बेंगलुरु में दोबारा लॉकडाउन नहीं चाहते हैं तो उन्हें कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए सभी उपायों का पालन कर सहयोग करना होगा। शहर में संक्रमण के मामलों में हुई हालिया वृद्धि के बाद पुनः लॉकडाउन लागू करने की अटकलों के बीच मुख्यमंत्री ने कहा कि वह कड़े कदम उठाए जाने के मामले पर बृहस्पतिवार और शुक्रवार को चर्चा करेंगे। येदियुरप्पा ने कहा, “कोविड-19 महामारी फैल रही है। हम सभी उपाय कर रहे हैं और हमने कुछ क्षेत्रों को सील भी किया है। मैंने आज दोपहर को कृष्णा (मुख्यमंत्री के आवासीय कार्यालय) में मंत्रियों और अधिकारियों की बैठक बुलाई है जिसमें कोविड-19 पर नियंत्रण के लिए कड़े कदम उठाने पर चर्चा की जाएगी।”

उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, “मैंने कल मध्याह्न बेंगलुरु से सभी दलों के विधायकों और शहर से सभी मंत्रियों की बैठक बुलाई है जिसमें उनके साथ चर्चा की जाएगी और कड़े कदम उठाने पर उनकी राय ली जाएगी।” संक्रमण के मामलों में वृद्धि का उल्लेख करते हुए स्वास्थ्य मंत्री बी श्रीरामुलु ने मंगलवार को कहा था कि यदि स्थिति में सुधार नहीं होता है तो सरकार को शहर में लॉकडाउन पुनः लागू करने पर विचार करना होगा। इसके बाद राज्य कैबिनेट के कई मंत्रियों ने बुधवार को कहा था कि शहर में लॉकडाउन पुनः लागू करने का निर्णय विशेषज्ञों की राय लेने के बाद ही किया जाएगा। कुछ खबरों में यह भी कहा गया था कि बृहस्पतिवार को होने वाली कैबिनेट की बैठक में लॉकडाउन पर निर्णय लिया जा सकता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरे शहर में लॉकडाउन नहीं है और केवल कुछ क्षेत्रों में प्रतिबंध लागू हैं जो जारी रहेंगे। उन्होंने बृहस्पतिवार को कहा कि कोविड-19 के प्रबंधन के लिए बेंगलुरु पूरे देश में एक मिसाल है। उन्होंने कहा कि अन्य शहरों से तुलना करें तो “हमने अभी नियंत्रण नहीं खोया है।” उन्होंने कहा, “लेकिन पिछले कुछ दिनों में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि हुई है। इस पर नियंत्रण रखने के लिए क्या कदम उठाए जाने चाहिए, इस पर हम आज और कल चर्चा करेंगे तथा कड़े कदम उठाने के सभी प्रयास करेंगे।” संक्रमण को रोकने के लिए जनता से सहयोग का आह्वान करते हुए येदियुरप्पा ने कहा, “यदि आप चाहते हैं कि बेंगलुरु को दोबारा सील न किया जाए, तो कृपया सहयोग करें और सामाजिक दूरी बनाए रखें।” शहर में बुधवार शाम तक संक्रमण के कुल 1,678 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि राज्य में यह संख्या 10,000 से अधिक हो गई है।(एजेंसी)