child-mother

नयी दिल्ली. भारत (India) ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation) के ‘जीवन संतुलन’ कार्यक्रम के लिए दो अरब डॉलर की राशि देने का बीते  शुक्रवार को वादा किया।

यह कार्यक्रम महिलाओं, नवजात शिशुओं और बच्चों की देखभाल से जुड़ा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के ‘द पार्टनरशिप फॉर मैटरनल, न्यूबॉर्न एंड चाइल्ड हेल्थ’ द्वारा आयोजित किया गया था, जो 1,000 से ज्यादा संगठनों का एक वैश्विक गठबंधन है और पूरी दुनिया के उच्च, मध्यम और कम आय वाले देशों और परमार्थ संस्थाओं ने इसे 20.6 अरब डॉलर देने का वादा किया है।

गठबंधन ने एक बयान में कहा, ‘‘अफगानिस्तान, भारत, केन्या, लाइबेरिया और नाइजीरिया सहित कम और मध्यम आय वाले देशों ने कुल राशि का 6.6 अरब डॉलर (32 प्रतिशत) देने का वादा किया है। वहीं अतिरिक्त 14 अरब डॉलर की राशि (68 प्रतिशत) जर्मनी, कनाडा, स्वीडन, ब्रिटेन, अमेरिका और बिल तथा मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन की ओर से दी जाएगी।”