भारत ने पाकिस्तान को जवाब, कहा- भारत में सरकार और जनता अदालतों के फैसले का करते हैं पालन

नई दिल्ली: भारतीय विदेश मंत्रालय (Indian Foreign Ministry) ने गुरुवार को प्रेस वार्ता का आयोजना किया. इस दौरान भारत ने पाकिस्तान (Pakistan) द्वारा बाबरी मस्जिद (Babri Masjid) पर किए उसके बयान पर जोरदार पलटवार किया. विदेश सचिव अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, “भारत एक परिपक्व लोकतंत्र है जहां अदालतों के फैसले का सरकार और जनता पालन करते हैं.  यह ऐसी व्यवस्था के लिए कठिन हो सकता है जहां जनता और अदालत की आवाज को सरकार चुप करा देती है.”

एनजीओ हमारे नियमों का पालन करें
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने एमनेस्टी इंटरनेशनल द्वारा भारत में काम बंद करने पर कहा कि, “एनजीओ को लेकर गृह मंत्रालय ने प्रेस विज्ञप्ति जारी की है. एनजीओ से उम्मीद की जाती है कि वह हमारे नियमों का पालन करें, जैसे वह अमेरिका या अन्य देशों में करते हैं.”

अर्मेनिया और अजरबैजान बंद करे युद्ध 
विदेश मंत्रालय ने कहा, “हमने अर्मेनिया और अजरबैजान के बीच दुश्मनी को फिर से शुरू करने की खबरों को देखा है. भारत इस स्थिति से चिंतित है जिसने क्षेत्रीय शांति और सुरक्षा को खतरा दिया है। हम दोनों पक्षों से तत्काल शत्रुता को ख़त्म करने की आवश्यकता को दोहराते हैं.” 

 6 अक्टूबर को  जयशंकर जायेंगे जापान  
अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, “विदेश मंत्री एस जयशंकर 6-7 अक्टूबर 2020 तक जापान का दौरा करेंगे. भारत-ऑस्ट्रेलिया-जापान-अमेरिकी मंत्री की दूसरी बैठक इस यात्रा के दौरान 6 अक्टूबर को होगी. इन बैठक में संबंधित देशों के विदेश मंत्री भाग लेंगे.”

उन्होंने आगे कहा, “यह एजेंडा मोटे तौर पर पोस्ट #COVID19 अंतर्राष्ट्रीय आदेश के साथ-साथ महामारी की चुनौतियों के लिए समन्वित प्रतिक्रियाओं की आवश्यकता पर ध्यान केंद्रित करेगा. उन्हें सामूहिक रूप से एक स्वतंत्र, खुले और समावेशी इंडो-पैसिफिक के महत्व की पुष्टि करने की उम्मीद है.”