DOBRA-CHANTI

टिहरी. उत्तरखंड (Uttrakhand) के लोगों के लिए एक अच्छी खबर है। क्योंकि अब उत्तराखंड के विश्व प्रसिद्ध टिहरी झील (Tihri Lake) पर देश का सबसे बड़ा सिंगल लेन डोबरा-चांठी मोटरेबल झूला पुल (Dobra-Chanti Bridge) बनकर तैयार हो चूका है। जल्द ही इसका  उद्घाटन PM मोदी द्वारा हो सकता है। बताया जा रहा है कि डोबरा चांठी पुल को बनाने की कुल लागत 300 करोड़ के आस-पास की है। फिलहाल पुल की टेस्टिंग का कार्य निरन्तर जारी है।

क्या है डोबरा-चांठी पुल की ख़ासियत :

  • डोबरा-चांठी पुल, फिलहाल देश का सबसे लंबा सस्पेंशन पुल, कुल लंबाई 725 मीटर है 
  • 440 मीटर का सस्पेंशन ब्रिज हैं इसमें 

  • पुल का निर्माण कार्य साल 2006 से शुरू हुआ था, अब जाकर हुआ तैयार
  • पुल के निर्माण में लगभग 300 करोड़ रूपए की लागत आयी

  • पुल के डिजाइन पर ही 18 करोड़ रुपये हुए हैं खर्च 
  • प्रतापनगर ब्लॉक की तीन लाख से ज्यादा की जनता को मिलेगा इसका लाभ 

डिजाइन में थी खामी : 

वैसे तो पुल का काम साल 2006 से चल रहा था। लेकिन IIT रुड़की की डिजाइन में खामियाँ आने के बाद अंतरराष्ट्रीय टेंडर आमंत्रित किए गए थे। इसके बाद दक्षिण कोरिया की यासीन कंपनी ने इसका डिजाइन तैयार करवाया गया था। साल 2016 में एक बार फिर इस पर काम शुरू हुआ जो अब बनकर तैयार हुआ है। 

जल्द ही होगा डोबरा-चांठी पुल का लोकार्पण :

पुल के लोकार्पण के विषय में राज्य के CM त्रिवेंद्र सिंह रावत का कहना है कि, PM नरेंद्र मोदी से डोबरा चांठी पुल के लोकार्पण को लेकर बहुत पहले निवेदन कर दिया गया था। अभी इस पुल की उसकी टेस्टिंग प्रक्रिया भी चल रही है। जल्द ही यह प्रक्रिया ख़त्म होने के बाद PM नरेंद्र मोदी से फिर आग्रह किया जाएगा कि वे डोबरा चांठी पुल का लोकार्पण करें। उम्मीद है PM नरेन्द्र मोदी, ‘अटल टनल’ के बाद जल्द ही  डोबरा चांठी पुल का लोकार्पण करेंगे।