लाहौर ब्लास्ट के आरोप पर बोला भारत- “आतंकवाद पर पूरी दुनिया पाकिस्तान की साख से वाकिफ”

    नई दिल्ली: लाहौर में हुए ब्लास्ट को लेकर पाकिस्तान द्वारा लगाए आरोप पर भारतीय विदेश मंत्रालय कड़ा जवाब दिया है। गुरुवार को आयोजित प्रेस वार्ता में मंत्रालय ने कहा, “भारत के खिलाफ बेबुनियाद दुष्प्रचार करना पाकिस्तान के लिए कोई नई बात नहीं है। पाकिस्तान अपने घर को व्यवस्थित करने और आतंकवाद के खिलाफ विश्वसनीय कार्रवाई करने में उसी प्रयास को खर्च करने के लिए अच्छा करेगा।”

    प्रवक्ता ने आगे कहा, “जब आतंकवाद की बात आती है तो अंतरराष्ट्रीय समुदाय पाकिस्तान की साख से अच्छी तरह वाकिफ हैं। इसे और कोई नहीं बल्कि उसका अपना नेतृत्व स्वीकार करता है जो ओसामा बिन लादेन जैसे आतंकवादियों को शहीदों के रूप में महिमामंडित करता रहता है।”

    ज्ञात हो कि, पिछले दिनों लाहौर में बम ब्लास्ट हुआ था। जिसमें करीब 10 लोगों की मौत हुई है और कई घायल हो गए थे। इस ब्लास्ट के लिए पाकिस्तान ने भारत की ख़ुफ़िया एजेंसी रॉ को जिम्मेदार बताया था। सबसे महत्वपूर्ण बात यह कि, जहां पर ब्लास्ट हुआ था वहां से कुछ ही मीटर की दूरी पर मुंबई हमले के मुख्य आरोपी हाफिज सईद का घर था। 

    काबुल में दूतावास कर रहा काम 

    अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान द्वारा लगातर हमले कर इलाकों के बब्जे करने की घटना पर विदेश मंत्रालय ने कहा, “काबुल, कंधार में हमारे दूतावास काम कर रहे हैं। हम अफगानिस्तान में सुरक्षा स्थिति की सावधानीपूर्वक निगरानी कर रहे हैं और अफगानिस्तान में भारतीय नागरिकों की सुरक्षा भी देख रहे हैं।”

    गौरतलब है कि, जैसे-जैसे अमेरिकी सेना अफ़ग़ानिस्तान वापस लौट रही है, वैसे ही तालिबान फिर से इलाकों को अपने कब्जे में लेना शुरू कर दिया है। पिछले दिनों तालिबान ने कई महत्वपूर्ण इलाको पर अपना कब्ज़ा कर लिया है। 

    मामले पर नजर बनी हुई है 

    मेहुल चौकसी के वापसी के सवाल पर जवाब देते हुए विदेश प्रवक्ता ने कहा, “कानूनी कार्यवाही पर तत्काल कोई अपडेट नहीं, हम घटनाक्रम का पालन करना जारी रखेंगे।”

    विदेशी उड़ानों को पुनः शुरू करने के लिए बात 

    कोरोना के कारण देशों द्वारा हवाई यात्रा पर लगाई गई पाबंदी पर  मंत्रालय ने कहा, “हमें उम्मीद है कि व्यापक सुधार के साथ कोविड की स्थिति, देश प्रतिबंधों में ढील देंगे। हमने उड़ानों को फिर से शुरू करने जैसे विदेशी राजदूतों के साथ इस मुद्दे को उठाया है। हम सक्रिय रूप से उन भारतीयों की मदद करने की कोशिश कर रहे हैं जिन्हें दुनिया भर के देशों की यात्रा करने की आवश्यकता है।”