Prime Minister Justin Trudeau said on bodies of more than 200 children found in a residential school in Canada- this is not the only such incident

नई दिल्ली: देश में कृषि कानूनों (Agriculture Bill) को लेकर चल रहे किसान आंदोलन (Farmer Protest) को लेकर टिप्पणी करने को लेकर भारत (India) ने कनाडा (Canada) के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) को सख्त जवाब दिया है. मंगलवार को भारतीय विदेश मंत्रालय (Ministry Of External Affairs) ने कनाडा के साथ होने वाली राजनयिक बैठक को रद्द कर दी है. 

हिंदुस्तान टाइम्स में छपी खबर के अनुसार विदेश मंत्रालय की सचिव रीवा गांगुली दास और कनाडाई विदेश सचिव के बीच 15 दिसंबर को बैठक होने वाली थी. लेकिन भारत ने कहा की जिस तारिक को बैठक होने वाली है वह हमारे लिए सुविधाजनक नहीं है. जिसके कारण बैठक करना संभव नहीं है. 

साथ देने का दिया था बयान 

ज्ञात हो कि किसान आंदोलन को लेकर जस्टिन ट्रूडो ने बयान दिया था. जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर मैं किसानों द्वारा प्रदर्शन के बारे में भारत से आ रही खबरों पर ध्यान देना शुरू नहीं करता तो बेपरवाह होता. स्थिति चिंताजनक है. शांतिपूर्ण प्रदर्शनकारियों के अधिकारों की रक्षा के लिए कनाडा हमेशा खड़ा रहेगा. हमने अपनी चिंताओं को रेखांकित करने के लिए कई जरियों से भारतीय अथॉरिटीज से संपर्क किया है.”

भारत के आतंरिक मामलों से रहे दूर

कैनडाई प्रधानमंत्री द्वारा भारत के आतंरिक मामलों पर टिप्पणी करने को लेकर गैर जरुरी बताया था. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, ” हमने कुछ कनाडा के नेताओं के भारत के किसानों के बारे में कमेंट सुने हैं. ऐसे बयान गैर जरूरी हैं, वो भी तब जब किसी लोकतांत्रिक देश के आंतरिक मुद्दों से जुड़े हो.”