Man called and threatened to hijack the plane and take it to Pakistan, police caught the caller, interrogations underway
Representational Picture

    नई दिल्ली: विमानन नियामक डीजीसीए (DGCA) ने शुक्रवार को कहा कि, कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों (International Passenger Flights) पर लगाई गई रोक को 30 जून तक के लिए बढ़ा दिया गया है। नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ने कहा, ‘‘बहरहाल, सक्षम प्राधिकरण हर मामले पर गौर करते हुए चयनित मार्गों पर अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को अनुमति दे सकते हैं।”

    भारत में कोविड-19 महामारी के कारण 23 मार्च 2020 से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को निलंबित कर दिया गया था लेकिन मई 2020 से वंदे भारत अभियान और जुलाई 2020 से चयनित देशों के बीच द्विपक्षीय ‘‘एयर बबल” व्यवस्था के तहत विशेष अंतरराष्ट्रीय विमान उड़ान भर रहे हैं। भारत ने अमेरिका, संयुक्त अरब अमीरात, केन्या, भूटान और फ्रांस समेत 27 देशों के साथ एयर बबल समझौते किए। दो देशों के बीच इस समझौते के तहत विशेष अंतरराष्ट्रीय विमान अपने क्षेत्रों के बीच उड़ान भर सकते हैं।

    डीजीसीए के शुक्रवार के परिपत्र में यह भी कहा गया है कि इस निलंबन का असर अंतरराष्ट्रीय मालवाहक अभियानों और उसके द्वारा मंजूरी प्राप्त उड़ानों पर नहीं पड़ेगा। भारत के कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जूझने के मद्देनजर अंतरराष्ट्रीय यात्री विमानों पर निलंबन बढ़ाने का फैसला आया है।