PM Modi
Pic : ANI

    नयी दिल्ली: कोरोना तांडव (Coronavirus) के बीच आज सातवां इंटरनेशनल योग दिवस (International Yoga Day 2021) मनाया जा रहा है। कोविड (COVID-19) के चलते इस बार कोई खास कार्यक्रम नहीं आयोजित किया गया है। योग दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने लोगों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज जब पूरा विश्व वैश्विक महामारी कोविड-19 का मुकाबला कर रहा है, तो योग उम्मीद की एक किरण बना हुआ है। 

    प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘जब कोरोना के अदृष्य वायरस ने दुनिया में दस्तक दी थी, तब कोई भी देश, साधनों से, सामर्थ्य से और मानसिक अवस्था से, इसके लिए तैयार नहीं था। हम सभी ने देखा है कि ऐसे कठिन समय में, योग आत्मबल का एक बड़ा माध्यम बना।” 

    वहीं योग दिवस के मौके पर लद्दाख में ITBP के जवानों ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर गलवान के पास योग किया।

    देखें वीडियो

    पीएम मोदी ने कहा कि दो वर्ष से दुनिया भर के देशों में और भारत में भले ही बड़ा सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं हुआ हो लेकिन योग दिवस के प्रति उत्साह कम नहीं हुआ है। इस मुश्किल समय में, इतनी परेशानी में लोग इसे भूल सकते थे, इसकी उपेक्षा कर सकते थे। लेकिन इसके विपरीत, लोगों में योग का उत्साह बढ़ा है, योग से प्रेम बढ़ा है।” मोदी ने कहा कि योग हमें तनाव से शक्ति का और नकारात्मकता से रचनात्मकता का रास्ता दिखाता है। उन्होंने विश्वास जताया कि योग जनता के स्वास्थ्य की देखभाल में निवारक एवं प्रेरक भूमिका निभाता रहेगा।  दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर राष्ट्रपति भवन में योग किया-

    चंडीगढ़: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर योग किया।

    महाराष्ट्र: अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने नागपुर में योग किया-

    उन्होंने कहा, ‘‘जब भारत ने संयुक्त राष्ट्र में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का प्रस्ताव रखा था, तो उसके पीछे यही भावना थी कि यह योग विज्ञान पूरे विश्व के लिए सुलभ हो। आज इस दिशा में भारत ने संयुक्त राष्ट्र, विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ मिलकर एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया है।” प्रधानमंत्री ने इस मौके पर योग संबंधी एक ऐप शुरू करने की जानकारी दी। 

    उन्होंने कहा, ‘‘अब विश्व को ‘एम-योग’ ऐप की शक्ति मिलने जा रही है। इस ऐप पर योग संबंधी सामान्य नियमों के आधार पर योग प्रशिक्षण के कई वीडियो दुनिया की अलग-अलग भाषाओं में उपलब्ध होंगे।”(एजेंसी इनपुट के साथ)